फंटूश

Just another weblog

248 Posts

447 comments

Madhuresh , Jagran


Sort by:

साबिर लीला

Posted On: 31 Mar, 2014  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

Others न्यूज़ बर्थ पॉलिटिकल एक्सप्रेस में

1 Comment

गिरगिट के रंग

Posted On: 24 Mar, 2014  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

Others पॉलिटिकल एक्सप्रेस हास्य व्यंग में

1 Comment

सत्ता ही सत्य है …

Posted On: 10 Mar, 2014  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

Others न्यूज़ बर्थ पॉलिटिकल एक्सप्रेस में

2 Comments

नेता की आदत …, जुबान

Posted On: 3 Mar, 2014  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

Others न्यूज़ बर्थ पॉलिटिकल एक्सप्रेस में

1 Comment

हम भारत के लोग …

Posted On: 24 Feb, 2014  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 3.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

Others न्यूज़ बर्थ पॉलिटिकल एक्सप्रेस में

2 Comments

इस नरसंहार का जिम्मेदार?

Posted On: 11 Feb, 2014  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (3 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

Others social issues मेट्रो लाइफ में

2 Comments

अहसास ए करोड़पति

Posted On: 3 Feb, 2014  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

Others न्यूज़ बर्थ हास्य व्यंग में

0 Comment

Page 5 of 25« First...«34567»1020...Last »

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

के द्वारा:

Authorize officer/chairmain State Human Rights Commission, Jharkhand Town Administrative Building, HEC Golchakkar, Dhurwa Ranchi-834004 Phone: 0651-2401181 0651-2401199 DATE-12/10/2014 APPLICANT/ VICTIM /COMPLAINER NAME - MANTU KUMAR SATYAM , FATHER NAME-SHIV PRSAD MANDAL,RELIGION -HINDU ,CATEGORY -O.B.C.,CASTE-SUNDI,SEX-MALE,AGE-30 Y, Add- S/O,.SHIV PARSAD MANDAL,AIRCEL MOBILE TOWER BUILDING, FRONT BAIDYNATH TRADING/ HARDWARE,NEAR JAMUNA JOUR POOL, NEAR RAMJANKI MANDIR, CASTAIR TOWN,SARWAN/SARATH MAIN ROAD, ,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA VOTER ID CARD DETAIL-CONSTITUTION DEOGHAR ASSEMBELY,JHARKHAND,NUMBER-MQS5572490,AADHAR CARD NO-310966907373) FOR PERSENT ADRESS-1.-S.B.I SAVING BANK ACCOUNT NUMBER OF DEOGHAR BAZAR BRANCH,DISTRICT -DEOGHAR ,JHARKHAND ,BRANCH CODE-03415, 2.PAN CARDS INDIA GOVT. OTHER ADDRESS MENTION PAN CARD NUMBER-EBDPS1842G MY(COMPLAINER/APPLICANTS) MOBILE NUMBER-8603598281,8271438703, 3. AADHAR CARD INDIA GOVT. AADHAR CARD NO-310966907373) 4.STUDENT ID CARD All are attach scan copy with e-mail application education---- 1.MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, INDIA ,ROLL NUMBER---671016791 SESSION 2010-12 2. - 2 YEAR POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14)(2 YEAR POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS COMPLETE),roll number-384/HR/2012 Matter is After After then book publish on POTHI.COM - India Hindu religion individual castes S.C/S.T/o.b.c weaker section immediate- poverty solution increase huge business only big role join individual castes sufficient number L.L.B/L..L.M /M.B.B.S/M.D/M.S degree - about 50 to 100 -people of HINDU religion general castes and o.b.c castes(Barnwal,Yadav,Kurmi,Sonar,Marwari) of LOCAL CITY DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112 I well known by face and address of the people have mixed accidental drug effect on body and mind ,narcotics drug .DROWSINESS DRUG ,NERVOUS PROBLEM DRUG LIKE TINY FEEL PARALYSIS ,SEX DISORDER DRUG AND OTHER many type side effect drug in MY and MY whole family (father ,mother and brother) food and drink water from DATE-21/09/2014 problem till now continue. they people threaten and victim to me. THEY PEOPLE THREATEN BY WEAPON TO ME MURDER WITH MY AND MY WHOLE FAMILY . .ALSO THREATEN TO ME ACCIDENT. with application also attach scan copy of signature WITH COMPLAIN DATE. Some leading peoples name OF HINDU RELIGION 1.kanchan singh,father name - LATE. shyam singh, CASTE-BHUMIHAR,SEX-MALE,AGE-ABOUT 40YEAR,ADRESS-NEAR AMBE GARDEN, KARNIBAGH,SARWAN MAIN ROAD, DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112 OCCUPATION-LAND SALE PURCHASE AGENT AND CIVIL CONTRACTOR.(2) NANDAN SINGH,FATHER NAME- LATE.SHYAM SINGH, CASTE-BHUMIHAR,AGE-ABOUT-35 YEARS, SEX-MALE,ADRESS-NEAR AMBE GARDEN, KARNIBAGH,SARWAN MAIN ROAD,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-81411, occupation- land sale- purchase agent contractor (3) NAME- SUGGA NARONE ,FATHER NAME- LATE KAMAL KANT NARONE , CASTE-BRHAMAN, AGE-ABOUT-35Y,SEX-MALE,Addres-NEAR RED ROSE SCHOOL, CASTAIR TOWN,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112,occupation- land sale- purchase agent and contractor(4) MANISH SINGH,(FRIEND OF SUGGA NARONE NAME MENTION)CASTE-BHUMIHAR AGE-28Y,SEX-MALE,address- near maa lalita hospital,castair town,sarwan main road,deoghar,dist- deoghar,jharkhand-814112,OCCUPATION -CONTRACTOR(5).chandan singh ,father name-ravindra singh,CASTE-BHUMIHAR,SEX-MALE,AGE-ABOUT 35Y ADD-near saint javiars school,karnibagh,sarwan main road,deoghar,dist-deoghar,jharkhand-814112,OCCUPATION-LAND SALE PURCHASE AGENT AND CONTRACTOR( 6)kundan singh,father name-ravindra SINGH,ADD-NEAR SAINT JAVIARES SCHOOL,KARNIBAGH,KARNIBAGH,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112.8.PAPU CHOWDHARY,FATHER NAME-CHNDRASEKHAR CHOWHARY,CASTE-BHUMIHAR,AGE-ABOUT 40 Y ADD-NEAR PRABHATI CAMPUS,KARNIBAGH,SARWN MAIN ROAD,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112`9.GUDDU JHA,CASTE-BRHAMAN,AGE-ABOUT 40 Y ,SEX-MALE,ADD-FARI NO.-3,CASTAIR TOWN,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112.(9)AJEET-SINGH,CASTE-RAJPUT,,ADD- MIXING OF CEMENT -CONCRETE BUSINESS OFFICE FRONT OF RAMJANKI MANDIR,SARWAN MAIN ROAD,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112(.11).BHAIRAV RAI,CASTE-BHUMIHAR,AGE-ABOUT 60 Y,ADD- FRONT OF S.C/S.T KUNDA POLICE STATION,SARWAN MAIN ROAD,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112,OCCUPATION-LAND SALE PURCHASE AGENT12-RAJEEV SINGH,AGE-ABOUT-29YEAR,ADD- FRONT AMBE GARDEN ,KARNIBAGH,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,,JHARKHAND-814112.OCCUPATION -FURNITURE STORE,NEAR PRABHATI CAMPUS,KARNIBAGH,SARWAN,MAIN,ROAD,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112.(13.)GORISHANKAR SHARMA ,SEX-MALE,AGE-65Y,RELIGION HINDU ,CATEGORY -GENRAL,CASTE-BHUMIHAR,OCCUPATION-RASTRIYA SVYAM SEVAK SANGH LEADER,ADD-NEAR KUNDA POLICE STATION,THARI ROAD,KARNIBAGH,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112. (15) KAMLESH RASTOGI ,RELRELIGION-HINDU,,CATEGORY -GENRAL,CASTE-BHUMIHAR,ADD-NEAR MAA LALITA HOSPITAL ,CASTAIR TOWN,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112 ,RELIGION-HINDU,,CATEGORY -GENRAL,CASTE-BHUMIHAR,ADD-NEAR SARSWATI SHISHU MANDIR ,CASTAIR TOWN,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112.,INDIA,OCCUPATION-RASTRIYA SVAYM SEVAK SANGH LEADER. (16)AMIT SINGH, RELIGION-HINDU,,CATEGORY -GENRAL,CASTE-BHUMIHAR, SEX-MALE,AGE-30 Y ,ADD-NEAR JAMUNA JOUR POOL,NEAR BAIDYNATH HARDWARE TRADING, ,CASTAIR TOWN,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112 ( 17)UTTAM SINGH RELIGION-HINDU,,CATEGORY -GENRAL,CASTE-BHUMIHAR, SEX-MALE,AGE-30 Y ,ADD-NEAR JAMUNA JOUR POOL,NEAR BAIDYNATH HARDWARE TRADING, ,CASTAIR TOWN,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112,OCCUPATION-GENRAL STORE.(18)CHANDAN SINGH ,RELIGION-HINDU,,CATEGORY -GENRAL,CASTE-BHUMIHAR, SEX-MALE,AGE- ABOUT 28-30 Y ,ADD-NEAR JAMUNA JOUR POOL,NEAR BAIDYNATH HARDWARE TRADING, ,CASTAIR TOWN,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112,OCCUPATION-GENRAL STORE (19)SEKHAR SINGH-RELIGION-HINDU,,CATEGORY -GENRAL,CASTE-BHUMIHAR, SEX-MALE,AGE-ABOUT 45 Y ,ADD-NEAR JAMUNA JOUR POOL,NEAR BAIDYNATH HARDWARE TRADING, ,CASTAIR TOWN,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112 ,OCCUPATION -BUS CONDUCTOR.*(20) Papu choudhary ,FATHER NAME- CHANDRA SEKHAR CHOUDHARY,RELIGION-HINDU,CATEGORY-BHUMIHAR,AGE-35 YEAR ABOUT, ADD-NEAR PRABHATI CAMPUS,KARNIBAGH,SARWAN/SARATH MAIN ROAD,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112. 19.satyendra barnwal and wife (femina smart beauty parlour owner ), RELIGION-HINDU,,CATEGORY -o.b.c ,CASTE-Barnwal , ,ADD-NEAR JAMUNA JOUR POOL,NEAR BAIDYNATH HARDWARE TRADING, ,CASTAIR TOWN,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112,OCCUPATION-beuty parlour 21.satyendra barnwal and wife (ABOVE MENTION ALLEGGED NAME ) his room renter (WIFE AND HUSBAND),religion -HINDU , 22. 2 OR 3 PODDAR BROTHER ,ADD-ABOVE MENTION NEAR BY ANIL SINHA AND RAVINDRA SINGH, near saint javiars school,karnibag, sarwan main road ,deoghar ,dist-deoghar,jharkhand-81412,,CASTE- SWARNKAR (O.B.C) (23) 2 OR 3 YADAV BOYS ,ADD-BELLA NIKETAN HOUSE, THARI DILAMPUR ROAD,KARNIBAGH,DEOGHAR,NEW KUNDA POLICE ,age-about -30 and 35 years STATION,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112 (25) SOBHA COMPLEX OWNER (TWO SONS), SEX-MALE,AGE- ABOUT-30 Y AND 27 YEARS,CASTE-KURMI ADD-NEAR RAMJANKI MANDIR ,CASTAIR TOWN,,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112(,26) BINDA NIWAS HOUSE 2 BOYS ,CASTE-SONAR/SWARNKAR,AGE- ABOUT 30 YEAR AND 27 YEAR,ADD- NEAR ROYAL ENFIELD SHOW ROOM PCC ROAD, NEAR SAINT JAVIARS 10+2 SCHOOL ,KARNIBAGH,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112 ( 27) B.N ELECTRICAL OWNER, CASTE-SONAR/SWARNKAR,AGE-45 ABOUT YEAR, SEX-MALE,ADD- NEAR SAINT JAVIARS SCHOOL,KARNIBAGH,SARWAN MAIN ROAD,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112 (28) NARYAN TIBEREWAL ,CASTE-MARWARI,SEX-MALE,AGE-ABOUT-50 YEAR,OCCUPATION-R.S.S LEADER,ADDRESS-RAMJANKI MANDIR,CASTAIR TOWN,SARWAN MAIN ROAD,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112 (29) GUPTA JEE ,SEX-MALE,AGE-45YEAR,ADD- A SHOP STORE FRONT DABUR SHOW ROOM,PRABHATI CAMPUS, KARNIBAGH, SARWAN MAIN ROAD, CITY-DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR,JHARKHAND-814112 (30) )SHIVLOK FURNITURE SHOP OWNER ,CASTE-BADHAI,ADD- ROYAL ENIFIELD SHOW ROOM NEAR PRABHATI CAMPUS , SARWAN MAIN ROAD,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR,JHARKHAND-814112.(31) VISWANATH STEEL SHOP OWNER,SEX-MALE,AGE-45Y ABOUT,CASTE-GUPTA,ADD-NEAR BAZAR BRANCH S.B.I,SETHSURAJMAL JALAN ROAD,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND, -814112 (32) BINOD YADAV, ,CASTE-YADAV, SEX-MALE,AGE-30 YEAR ABOUT,VILL-SALURAIDIH,POLICE STATION KUNDA,DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112,INDIA, (33) NILKANTH YADAV,SEX-MALE,AGE-45Y ABOUT,VILLAGE-SALURAIDIH ,POST- KUNDA POLICE STATION,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112,(34) JHARI YADAV,CASTE-YADAV,SEX-MALE,AGE-ABOUT-45 YEAR,ADD- KUNDA,CITY-DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR,JHARKHAND,-814412. (34)PANKAJ PUSTAK BHANDAR OWNER,CASTE -JAISWAL,ADD-NEAR PVT. BUS STAND,SARWAAN MAIN ROAD,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR,JHARKHAND-814112,INDIA ,SEX-MALE,AGE-ABOUT 40YEAR (35) MUSKAN SALOON SHOP WORKER,CASTE-NAI,SEX-MALE,ADD-NEAR PVT. BUS STAND,SARWAAN MAIN ROAD,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR,JHARKHAND-814112,INDIA, (36) SALOON SHOP 2 OWNER/WORKER NEAR SHIVALOK FURNITURE SHOW ROOM ,CASTE-NAI,SEX-MALE,AGE-30 YEAR ABOUT AND 35 YEAR ABOUT,ADD-ADD- ROYAL ENIFIELD SHOW ROOM NEAR PRABHATI CAMPUS , SARWAN MAIN ROAD,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR,JHARKHAND-814112 5 attachments — Scan and download all attachments View all images MANTU1.png 345K View Scan and download MANTU2.png 339K View Scan and download MANTU 4.jpg 28K View Scan and download MANTU 2.jpg 68K View Scan and download Picture 018.jpg 132K View Scan and download

के द्वारा:

fundamental right violation of human right activist and book author approved from IINDIAN INSTITUE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI, INDIA Registration Number : GOVJH/E/2014/00429 Name Of Complainant : MANTU KUMAR SATYAM Date of Receipt : 10 Nov 2014 Received by : Government of Jharkhand Officer name : Smt Saroj Srivastava Officer Designation : Addl. Secretary Contact Address : D/o Personnel, AR & Rajbhasha, Jharkhand Mantralaya, Project Bhawan, Doraudha, Ranchi834004 Contact Number : 0651-2403221 Grievance Description : Authorize officer , VICTIM PERSON DETAIL- NAME- MANTU KUMAR SATYAM, FATHER NAME-SHIV PARSAD MANDAL,RELIGION -HINDU ,CATEGORY -O.B.C.,CASTE-SUNDI,SEX-MALE,DATE OF BIRTH-21/04/1984. Add-s/o ,SHIV PRSAD MANDAL, FRONT BAIDYNATH TRADING/,Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN MAIN ROAD ,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA ,PERSENT ADDRESS - 1.SANING BANK ACCOUNT OF S.B.I , BAZZAR BRANCH,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR,JHARKHAND-814112,INDIA, BRANCH CODE-3415. ALSO BOOK PUBLISH IN POTHI.COM(India), TITLE- India Hindu religion individual castes S.C/S.T/o.b.c weaker section immediate- poverty solution increase huge business only big role join individual castes sufficient number L.L.B/L..L.M /M.B.B.S/degree ,occupation -Human right activist SUBJECT - Matter is After I have PUBLISH BLOG URL-http-mantusatyam.blogspot.com/2013/08 –concerned of poverty in India blog concentrate of poverty remove of HINDU religion of o.b.c weaker section ,S.C and S.T publish of many news channel/paper of internet mode like blog,comment, google plus and facebook ) ,MANY TIMES HAVE IT FLASH .After then 200-people of HINDU religion general castes and o.b.c castes(barnwal,kurmi,sonar,marwari,JAISWAL ,KESHARI,NAI ,CHANDRAVANSHI(RAMANI),BADHAI /badai , KUMBHAR, gupta ,chaurausia,TELI ) sub castes of LOCAL CITY-DEOGHAR ,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112,ALSO WHOLE DISTRICT -DEOGHAR,JHARKHAND PEOPLES ENVOLVE I well known by face and address of the people have mixed accidental drug effect on body and mind ,narcotics drug .DROWSINESS DRUG ,NERVOUS PROBLEM DRUG,SEX DISORDER DRUG, LIKE TINY FEEL PARALYSIS ,head vertigo AND OTHER many type side effect drug in MY and MY whole family (father ,mother and brother) food and drink water that incident from DATE-30/08/2013 ,problem till now application sent date continue. they people threaten and victim to me. THEY PEOPLE THREATEN BY WEAPON TO ME MURDER WITH MY AND MY WHOLE FAMILY . . Also I publish the some book in social empowerment IN INDIA HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES matter from the date-2/02/2014 continue . next 1 to 2 month publish some book in the matter. on amazon kindle(COUNTRY- U.S AMERICA ), CREATE SPACE(,COUNTRY- U.S AMERICA), amazon.in (country -INDIA)and amazon.com COUNTRY- (U.S AMERICA) ,BOOKS I.S.B.N NUMBER ARE - ISBN-10. 149593926X, ISBN-13. 978-1497323568,ASIN. B00IRVUG8U,ISBN-13. 978-1495939266 .E.T.C . After then the book publication date threaten to me like above mention paragraph ,category people and torture to me like above mention paragraph,above for REMOVE the book from publishers company. In that matter I have complain it on I complaint it on on JHARKHAND STATE GOVERNMENT state human right commission ,ranchi,jharkhand BY E-MAIL on DATE-28/11/2013 ,date-07/03/2014 ,date-08/03/2014 , date-11/04/2014 and date-29/09/2014,date-06/10/2014 and date-07/10/2014 some about 30-35 leading persons of that crime name have mention in that applications,my problem till now continue also I sent it application by speed post on TO,REGISTRAR GENERAL ,Jharkhand High Court.Doranda,Ranchi-834 033(India) with appropriate court fee, on date-12/07/2014 ,speed post number- EJ606616931IN. ALSO E-MAIL TO DATE- 19/07/2014,DATE-14/07/2014 OF SAME COMPLAIN TO REGISTRAR GENERAL ,Jharkhand High Court.Doranda,Ranchi-834 033(India) .Also I HAVE COMPLAIN IT SAME ORGANIZATION ,vigilance bureau section- case complain number-JHVIG/E/2014/00005, JHVIG/E/2014/00009, JHVIG/E/2014/00010,JHVIG/E/2014/00011 AND SAME DEPARTMENT CASE NO.-GOVJH/E/2014/00404,GOVJH/E/2014/00408,C.I.D SECTION CASE DIARY - JHCID/E/2014/00003 ,CHEIF MINISTER OFFICE-CASE DIARY -CM OFF/E/2014/00006. I want to say HINDU RELIGION Yadav caste(O.B.C) have not INVOLVE IN THE MATTER but before cases I mention it HINDU RELIGION YADAV CASTE INVOLVE it. NOTE- MY PROBLEM TILL NOW same style CONTINUE 0N DATE--10/11/2014 . ALSO ATTACH PDF OF my signature. Current Status : RECEIVED THE GRIEVANCE

के द्वारा:

के द्वारा:

  I AM BOOK AUTHOR ON POTHI.COM ON BANGLORE-     ,INDIA ,BOOK TITLE NAME- India Hindu Religion Individual castes /S.C/S.T / o.b.c weaker sections immediate - poverty solution, increase huge Business , only big role join individual castes sufficient number L.L.B/L.L.M / M.B.B.S/M.D/M.S degree SENT COMPLAIN ON      Registration Number : DARPG/E/2014/06394 Name Of Complainant : MANTU KUMAR SATYAM Date of Receipt : 23 Sep 2014 Received by : Department of Administrative Reforms and Public Grievances Officer name : Ms Shailja Joshi Officer Designation : Deputy Secretary Contact Address : 5th Floor, Sardar Patel Bhawan, New Delhi110001 Contact Number : 01123741006 e-mail : dirpg-arpg@nic.in Grievance Description : DEPARTMENT OF ADMINISTRATION REFORMS AND PUBLIC GRIEVANCE, AUTHORIZE OFFICER, CENTRALIZE PUBLIC GRIEVANCE REDRESS AND MONITORING SYSTEM(CPGRAMS), government of, INDIA, SIR/MADAM, DATE-23/09/2014 , VICTIM PERSON DETAIL- NAME- MANTU KUMAR SATYAM, FATHER NAME-SHIV PARSAD MANDAL,RELIGION -HINDU ,CATEGORY -O.B.C.,CASTE-SUNDI,SEX-MALE,AGE-30 Y, Add-s/o ,SHIV PRSAD MANDAL,AIRCEL MOBILE TOWER BUILDING, FRONT BAIDYNATH TRADING/ HARDWARE,Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN/SARATH MAIN ROAD, ,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA VOTER ID CARD DETAIL-CONSTITUTION DEOGHAR ASSEMBELY,JHARKHAND,NUMBER-MQS5572490,AADHAR CARD NO-310966907373),PERSENT ADDRESS – 1.SANING BANK ACCOUNT OF S.B.I , BAZZAR BRANCH,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR,JHARKHAND-814112,INDIA,,BANK ACCOUNT NUMBER-30460140100 .. education- 1.MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, INDIA, ROLL NO.-671016791 2 – POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14) ,ROLL NO.–384/HR/2012 ( DEGREE COMPLETE) SUBJECT- some HINDU religion general category castes , O.B.C CATEGORY ( castes-BARNWAL ,sawarnkar ,KURMI,YADAV ) 50 people have ragging without universty( UNDER TOWN AREA /MUHALLA) to me with moral dignity by weapons fear ,have to raging say to me old model ,increase exposure enforce to given pressure to talk girl,follow up girl from 1 NOV –2013 . They have mixed accidental drug effect on body and mind ,narcotics drug .DROWSINESS DRUG ,NERVOUS PROBLEM DRUG LIKE TINY FEEL PARALYSIS AND OTHER many type side effect drug in MY and MY whole family (father ,mother and brother) food and drink water from DATE- 1 NOV – 2013. I also complain before its date on the ABOVE MENTION SUBJECT matter STATE HUMAN RIGHTS COMMISSION JHARKHAND TOWN ADMINISTRATIVE BUILDING, NEAR GOLCHAKKAR, DHURWA RANCHI- 834004 ,jharkhand by e-maiL on date- 20/05/2014 and – 20/05/2014 and date- 04/06/2014 AND date-29/08/2014 problem till now continue.ALSO SOME TIMES CONTACT BY PHONE FOR CONCERN E-MAIL, BUT PROBLEM TILL NOW CONTINUE. ALSO HAVE IT COMPLAIN ON ITS MATTER DEPARTMENT OF LAW JHARKHAND GOVERNMENT CASE NUMBER-JHLAW/E/2014/00010 JHLAW/E/2014/00011. JHLAW/E/2014/00012,JHLAW/E/2014/00013(LAST 3 COMPLAIN DATE-04/09/2014) BUT PRONLEM TILL NOW CONTINUE.ALSO ALSO IT PROBLEM SENT ON VIGILANCE BUREAU,JHARKHAND GOVERNMENT ON DATE-22/09/2014,CASE NUMBER- JHVIG/E/2014/00005 PROBLEM TILL NOW CONTINUE. also detail application and signature ( same department with complaint date in case number DARPG/E/2014/06391) upload in PDF attachment,PROBLEM TILL NOW CONTINUE ON DATE-24/09/2014

के द्वारा:

Registration Number : DARPG/E/2014/06394 Name Of Complainant : MANTU KUMAR SATYAM Date of Receipt : 23 Sep 2014 Received by : Department of Administrative Reforms and Public Grievances Officer name : Ms Shailja Joshi Officer Designation : Deputy Secretary Contact Address : 5th Floor, Sardar Patel Bhawan, New Delhi110001 Contact Number : 01123741006 e-mail : dirpg-arpg@nic.in Grievance Description : DEPARTMENT OF ADMINISTRATION REFORMS AND PUBLIC GRIEVANCE, AUTHORIZE OFFICER, CENTRALIZE PUBLIC GRIEVANCE REDRESS AND MONITORING SYSTEM(CPGRAMS), government of, INDIA, SIR/MADAM, DATE-23/09/2014 , VICTIM PERSON DETAIL- NAME- MANTU KUMAR SATYAM, FATHER NAME-SHIV PARSAD MANDAL,RELIGION -HINDU ,CATEGORY -O.B.C.,CASTE-SUNDI,SEX-MALE,AGE-30 Y, Add-s/o ,SHIV PRSAD MANDAL,AIRCEL MOBILE TOWER BUILDING, FRONT BAIDYNATH TRADING/ HARDWARE,Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN/SARATH MAIN ROAD, ,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA VOTER ID CARD DETAIL-CONSTITUTION DEOGHAR ASSEMBELY,JHARKHAND,NUMBER-MQS5572490,AADHAR CARD NO-310966907373),PERSENT ADDRESS - 1.SANING BANK ACCOUNT OF S.B.I , BAZZAR BRANCH,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR,JHARKHAND-814112,INDIA,,BANK ACCOUNT NUMBER-30460140100 .. education- 1.MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, INDIA, ROLL NO.-671016791 2 - POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14) ,ROLL NO.--384/HR/2012 ( DEGREE COMPLETE) SUBJECT- some HINDU religion general category castes , O.B.C CATEGORY ( castes-BARNWAL ,sawarnkar ,KURMI,YADAV ) 50 people have ragging without universty( UNDER TOWN AREA /MUHALLA) to me with moral dignity by weapons fear ,have to raging say to me old model ,increase exposure enforce to given pressure to talk girl,follow up girl from 1 NOV --2013 . They have mixed accidental drug effect on body and mind ,narcotics drug .DROWSINESS DRUG ,NERVOUS PROBLEM DRUG LIKE TINY FEEL PARALYSIS AND OTHER many type side effect drug in MY and MY whole family (father ,mother and brother) food and drink water from DATE- 1 NOV – 2013. I also complain before its date on the ABOVE MENTION SUBJECT matter STATE HUMAN RIGHTS COMMISSION JHARKHAND TOWN ADMINISTRATIVE BUILDING, NEAR GOLCHAKKAR, DHURWA RANCHI- 834004 ,jharkhand by e-maiL on date- 20/05/2014 and - 20/05/2014 and date- 04/06/2014 AND date-29/08/2014 problem till now continue.ALSO SOME TIMES CONTACT BY PHONE FOR CONCERN E-MAIL, BUT PROBLEM TILL NOW CONTINUE. ALSO HAVE IT COMPLAIN ON ITS MATTER DEPARTMENT OF LAW JHARKHAND GOVERNMENT CASE NUMBER-JHLAW/E/2014/00010 JHLAW/E/2014/00011. JHLAW/E/2014/00012,JHLAW/E/2014/00013(LAST 3 COMPLAIN DATE-04/09/2014) BUT PRONLEM TILL NOW CONTINUE.ALSO ALSO IT PROBLEM SENT ON VIGILANCE BUREAU,JHARKHAND GOVERNMENT ON DATE-22/09/2014,CASE NUMBER- JHVIG/E/2014/00005 PROBLEM TILL NOW CONTINUE. also detail application and signature ( same department with complaint date in case number DARPG/E/2014/06391) upload in PDF attachment,PROBLEM TILL NOW CONTINUE

के द्वारा:

के द्वारा:

मैं इस लेख के प्रतिक्रिया में जल और गंगा के प्रदुषण पर अपनी ही लिखी गयी कविता की कुछ पंक्तियाँ पेश करना चाहता हूँ। आपको पसंद आती हैं तो अपने विचार दें। हृषिकेश में गंगा - जल बन, हर की पौड़ी को है धोता , प्रयाग - राज में बनी त्रिवेणी , बनारस के घाटों में भर जाता। आगे बढ़ता पटना होकर, सुल्तानगंज में उत्तरायण होता, बढ़ता जाता, अलमस्त चाल में , सगर-पुत्रों का उद्धारक बनता। यह जल क्यों दूषित हो चला , मानव तूने क्या कर डाला , अमृत का घट तेरे पास था , तूने उसमें विष भर डाला। अपना कचरा न सका संभाल , डाल दिया इस पावन तट पर, सूखती जा रही धार अमृतमयी, कंकड़ - पत्थर घाट में भर - भर। सूख गयी जो धार नदी की, पसर गयी कचरे में फँस कर, कैसे विहंग की चोंच चखेगी, प्यासा रह जायेगा उर अंतर। क्या इस जल की धार धरा पर , अतीत के पन्नो में ही दिखेगा? यह पातक मानव तू सहेगा , तेरे ऊपर कहर गिरेगा। अब भी बचा ले इस अमृत को, अग्रिम जीवन को सिंचित कर, पीयूष भरा अभ्यंतर हो, जल से जीवन परिपूरित कर!!! जल से जीवन परिपूरित कर!!!. ब्रजेन्द्र नाथ मिश्र, जमशेदपुर E-mail-brajendra.nath.mishra@gmail.com. Blog: http:marmagyanet.blogspot.com

के द्वारा:

!!महामुक्ति दल और महामुक्ति संघ की माँग!!मा.मोदी जी से महामुक्ति दल और महामुक्ति संघ जानना चाहता है|कि बार बार साई के बिषय में शंकराचार्य स्वरुपानंद सरस्वतीगैर जिम्मेदाराना बयानबाजी कर रहे है|और कह रहे है|कि साई वेस्या के पुत्र थे,मांसाहारी थे|इस तरह कहकर देश में आग लगाने का कम कर रहे है|मगर मोदी जी और उनके मंत्री गण क्यो चुप है?जिस नेट की बात दिवालिया मानसिकता के साथ संत समाज कर रहा है उसी नेट पर यह भी है|कि भारत में द्रविण रहा करते थे|जो बाहर से गोरे आए वही आज हिंदू बन बैठे है|इस बात की पुष्टि वोल्गा टु गंगा,तुम्हारी क्षय और मा. शतेंदु दुबे द्वारा लिखित पीड़ा दलित समाज की में पढ़ा जां सकता है और तीनों किताब ब्राम्हडो ने लिखा है|(2)निर्मल बाबा रोज़ सहारा और सुदर्शन टीवी चैनल पर खुलेआम भगवान बन बैठे है और अरबों का धन जनता से लूट रहे है मगर कोई संत आवाज़ नही उठा रहा और सरकार भी चुप है क्यो ? जबकि कबीर साहब ने बहुत पहले ही लिखा है कि दोनों जने रहिया बिगड़ दिहलेन भाई|ब्राम्हण पहिनेसी मोटका जनेऊ ब्रामडी के नही पहिनाई || जन्म जन्म की शुद्री ब्राम्हडी उन पारसेन उन खाइन| हिंदू मारेसि मुर्गा मेघा मुसलमान मुर्गाई || दोनों जने रहिया विगाड देहलेन भाई|| और अब हिंदुओं के संत शंकराचार्य स्वरुपानंद सरस्वती जिन साई भक्तों को संक्रामक बीमारी की तरह बताया है तो इससे सावित होता है कि वे ख़ुद मानसिक बीमारी से ग्रसित है|(3) रामदेव बाबा तमाम प्रकार के औषधियों द्वारा तमाम रोगों को जड़ से ठीक करने का प्रचार किया जा रहा है तो क्या उन्हें सरकारी मान्यता प्राप्त है और सरकार का हां है तो उस दवा का उपयोग सरकारी अस्पतालों में क्यो नही किया जां रहा है|जबकि ख़ुद मा. रामदेव बाबा लकवा से ग्रसित हुए है|अरबों के मालिक बन गये है मगर सरकार चुप है|(4) सारे मंदिरों में जब कोई आपदा आती है तो मीडिया और जनता सरकार पर उँगली उठती है तो सारे मंदिरों को सरकार अपने कब्जे में क्यो नही ले लेती?क्योकि आज मंदिरों में जितना धन है उतना शायद सरकार के खजाने में भी नही है|(5) जो बी.जे.पी. राम को मुद्दा बनाकर पुरे देश में अमन शान्ति भंग कर दी थी उस राम मन्दिर की रखवाली में रोज़ लाखो रुपया बरबाद हो रहा है तो क्या मन्दिर निर्माण करवाकर क्या इस फिजुलखरची पर रोक लगा पायेगे?मा.मोदी जी से महामुक्ति दल और महामुक्ति संघ अनुरोध करतीं है| कि भारत को बाँटने वालों,नफरत फैलाने वालों,साई,कबीर साहब जैसे संत शिरोमणि जो मानव को नया राह् दिखाया के ऊपर टिप्पणी करनें वालों के ऊपर तुरंत कानूनी कार्यवाही सरकार के तरफ से की जानी चाहिये और मा. मोदी जी और मा. मोदी जी की सरकार चुप रहती है तो भारत की मुलनिवासी कौम को खुलेआम सामने आकर आंदोलन करना चाहिए |महामुक्ति दल और महामुक्ति संघ इसके लिए तैयार है| मा.हरिलाल पल.अध्यक्ष महामुक्ति दल,उपाध्यक्ष मा.के.एल.शर्मा महामुक्ति दल,मा.एम.डी.शर्मा महासचिव महामुक्ति दल, मा.एस.आर.शर्मा.प्रमुख महामुक्ति संघ मा. राजेंद्र प्रसाद ठाकुर महासचिव महामुक्ति संघ,महावीर गुप्त सचिव महामुक्ति संघ,राम लखन चौरसिया,विजय विश्वकर्मा,आलोक गुप्त,लालमणि राजभर,सभी आंदोलन के लिए तैयार है|जनता और प्रिंट मीडिया, टीवीं चैनल मीडिया का साथ चाहिये|धन्यवाद

के द्वारा:

jab tak Bihar mein BJP aur JDU ka Rajnitik Romance chal raha tha tabb tak BJP and JAN SANGHIYON ko Sabir Ali mei koi dosh nahi dikh raha tha…..jese hi BJP ne JDU ko Narendra Modi k roop mei Sautan Darshan karaye dono dalon ka Rajnitik Honeymoon khatam hi nahi hua balki BJP ko deshbakhti ki kathputli nachaney ka mauqa haat lag gaya hai. udher Sabir Ali sahib bharam mei aa gaye k chalo bhaiyya hum bhi Mukhtaar aur Shahnawaz ki treh BJP ka muslim alp-sankhyak mukhauta baan jayen aur satta ki tthori malai chatney ka mauqa mil jayey to baat baan jayey. issey pehley wo us JDU k awwal pankti k sipahi baney phir rahey tthey jsney Bharat k sampardayik sauhaard k taney baney ko bikharney se bachaney k lye BJP se kinara kaar lia ttha. Sabir Ali ko Bihar k muslim voters ka koi karishmayi neta samjhtey huey anan fanan mei BJP me unke su-swagatam ki rasam aada karkey BJP kamaan gadgad mehsus karr rahi tthi lekin unhen pata nahi ttha ye Kamal ka Komal bistar nahi hai. udher Mukhtar Abbas ko lga ye Bahari Chehra (?) unke samikaran ko halka kar sakta hai unhen lgta hai ik Shahnawaz aur ik Mukhtar kafi hain. so wo aisi behuda rajniti pe utar ayey jiski misaal Bharat k rajnitik itihas mei shayad hi kabhi dekhney ko milegi. ye ghatna hamen kuch sochney pe majboor karti hai jesey:------ 1. jab Rahul Baba ne kaha ttha k Muzaffarnagar k danga piditon se sampark sadhney mei jutey hain aatankwadi......taab BJP janney ko utawali ho gayi tthi k is baat mei kitni sachchai hai taki Zionist Andolan ki tarz pe rajnitik shadyantra key sanskaran ko Bharat mei bh ik aur disha di jaye dusri trf wo musalmanon k ander Congress k khilaf bhavanayen bhi paidah karni chahti tthi so usney Rahul k byan ko lekar Congress ki mansha pe gharyali sawal bbhi kharey kiye. 2. desh mei kuch atanki karwayi mei Azamgarh connection ko lekar Azamgarh ko Atankgarh ki sangya dena BJP think-tank ka hi kaam raha hai ye baat kisi se chupi nahi hai.desh k ik bhubhaag ko ghrina, uphaas aur kalank ka vishey bnaney k is jaghanye apradh ko kya Desh-droh nahi samjha jana chahye? 3. isi treh Bihar se kuch ik ladko k btaur Atanki pkdrey janey pe Sabir Ali k muttaliq yeh kehne k wo Rajnitik sandigdh hain kyunki jis sheher se wo atey hain wahan se atanki pakrey gaye tthey……phr Sabir Ali kya us sheher ka har wyakti sandehasapad aur sandigh charitra ka swami thehra?kya yeh Bharat k nagrikon k rashtrye-charitra ka hanan nahi hai? 4. apni rajnitik mahtwakancha k lye JDU pe muslamano ko bewaquf bnaney wali party bta kar usper tthuk k nikalney waley Sabir Ali ne socha ttha k BJP mei unki kafi aau bhagat hogi magar aab to unki Deshbhakti pehi prashnchinh unkey naye sasuraliyon ney lga dia?Mukhtar Abba ski awaz peto puri BJP aur RSS unkey khilaf hogayi phr bhi Sabir Ali k nishaney pe sirf Mukhat hi kyun? Aur Mukhtar k nishaney pe BJP mei shamil ik muslim neta hi kyun………shayad dono ko apni rajnitik hadd ki sima ka bhali bhanti gyaan hai. 5. Bihar k log aur Bihar k BJP neta gan BJP se SHIV SENA gattbandhan k lyey jawab talab kyun nahi kartey jis SHIV SENA k netritwa mei Bihar wasaiyon ka Mumbai ka gli-gli mei apman hua jis Shiv-Sena ney Bihari shabd ko gali bna dia.Aaj Bihar mei garajney barseney wali Narendra Modi ko Bihar k samman ki yaad aati hai aur unki iss gharyali beyanbaziyo pe Narendra Modi Zindabaad ka nara lganey waley log kya Narendra Modi, BJP aur Shiv-Sena se Bihariyon k apmanit karney k lye muafi mangney ki maang kar saktey hain??? Bihar aur Bihari shabd ko gali kesey bna dia gaya hai iska bhaan Bihar k uss niwasi ko nahi hoga jo Bihar se kabhi nahi nikla.yeh Raj Thakrey ki MNS (jissey Rajnitik Jugat bitthaney ki koshish mei BJP ala Kaman din raat lgi hui tthi aur unki yeh prayas Shiv Sena k kadey virodh k karan asafal hua usi) Shiv Sena ki prampra ka pehla sanskaran hai wohi MNS jiskey karyakartaun ney Mumbai ki galiyon mei jee tor mehnat karkey 2waqt ki roti kamaney waley Bihar k logon ko kucch saal pehley sadkon pe daura daura k mara…..Gujrat aur Mumbai mei pratiyogita pariksha dene gaye Bihari kshatron ko peeta. Kya iss desh k seh-nagrikon k saath kye gaye is ghrinit apradh k lye nafrat ki rajniti karney walon ko muafi nahi mangna chahye? 6. kya Shiv Sena se BJP aur RSS ko chhama mangney k lye nahi kehna chahye jisney yeh nara dia k Maharshtra marathon k lye aur aajtak wo isi ghrinit rajniti k palak-poshak baney huey hain?ye Jammu Kashmir ki dhara – 370 jesi niti pe aghoshit roop se amal karney jesa nahi hai???? 7. kuuch varsh pehley Shiv Sena ki navjaat vidrohi shakha MNS ki (alag) Maratha Rashtra ki soch waley byan se kya Rashtra-Bakhti ki sugandh aaj tak aati hai jo BJP election-2014 mn ussey ganth-jod karney ka mann bna chuki tthi. Aisa karney walon ki Deshbhakti Aur Rashtrawaad ko kesey paribhashit kia jayey kya iss baat pe manthan nahi hona chahye???? 8. ASSAM mei Modi bahut behkey, cheekhey chillalye: Congress ko gali de aye……..wahan Hindi Bhashi ka jis treh qatal-e-aam hota aya hai kya uskey lye koi niti koi smadhaan ki baat ki nahi???? kya isper ksi ne ghaur kiya. Wahan wo China aur Bangladesh ka daar dikha k aye.to kya wo jab Prime-minister bnengey to China k awaidh qabzey se Bharat k bhibhaag ko chhurayengey? Kya Bangladesh ko saza dene k lye TEEN-BIGHA galiyara samjhauta raad karengey?kucch warsh pehley jab BDR (BanglaDesh Rifles) ne Bhartiye sima mei ghuss kar hamarey sena k kucch jawanon ko aghwa karkey unhey apahij bna k chhor dia kya Naredra Modi uss piddi jesey Bnagladesh sey iss apmaan ka badla chukayengey? Aisi koi baat wo Assam ki jaanta se keh k nahi aye. Ik ajjeb see baat keh dia k Narendra Modi ki sarkar ki wjeh se Pakistani ghuspathiyey Gujrat mein asafal hotey hain……to kya Pakistan se lagi Gujrat ki Bharat ki antar-rashtriye sima ki dekh-rekh aur chauksi BSF nahi karti kya iss kshtra ki sima ki suraksha rajya-sarkar ka adhikar-kshetra mei aati hai?kya Gujrat sarkar ney iss sima per koi vaikalpik vyavasttha kar rakhi hai jiski jankari kendra-sarkar ko nahi hai? 9. Gujrat sarkar vidyalayi kshatra-kshatraon k lye chalney wali kendra-sarkar ki kshtrawriti sheme (scholarship) ki rashi wapis kar deti hai khas kar alp-sankhakon k lya nirgat rashi. Jabki yeh rashi arthik drishti se kamzor logon k lye kafi badi sahayta hai. Ni-sandeh yeh rashi SC/ST/OBC/BC/Minorities k lye hoti hai. is treh k protsahan-scheme ko ham sakaratamak rajniti ki upaj kehtey hain. magar Modi sarkar k grahan iss pe lag gaya, kyun?? 10. Italy k marines k dwara machwaron ki hatya aur un marines ko Italy wapis bhejney pe Modi ney Sonia ko nishaney pe lia. Ne-sandeh marines ko saza milni chahye magar atankiyon ko jamai bna kar Qabul chhor kar aney waley Bhajpayiyon sey bhi iss desh ki janata ko hisaab kyun nahi mangna chahye? 11. Kargil yudh mei hmarey Bharat k balidaniyon ke lye kharidey gaye taboot mei dalali khaney ki khabar mei kya sachai hai……iss baat ki asliyat janney k lye Bhajpayiyon ka garibaan kyun nahi pakda jana chahye????? 12. atankiyon ka niwas sthal honey ki wjeh karr yadi koi jgeh ya wahan ka koi be-qusur aur begunah niwasi agar ghrinit, deshdrohi, sandehaspad hojata hai to phr Colonel Prohit, Sadhvi Pragya & Company k shehar/ gaun aur wahan k rehney waley bhi utney hi kalankit honey chahye: magar Bhajpayiyon aur Jnasanghiyon ki paribhasha yahan akar kyun tithak jati hai aur apurn reh jati hai? Aur agar Bhajpaiyon aur jansanghiyon ki paribhasha ko swikaar kar liya jayey to 1857 k peheley Swatantra sangram mei jinn Rajwaron ney angrezon ki madad ki uski jageh kahan honi chahye tthi……….kya aisa hai????? 13. Bhajpaiyon aur Janasanghiyon ki tarz pe socha jaye to kya yeh nahi kaha jana chahye k Narendra Modi Kya kisi deshi bhang ya satta k nashey mei bd-mast tthey jo Godhra Kand hogya?kya wo Neero k wanshaj hai jab Pura Gujrat jal raha ttha wo chein ki banshi bja rahey tthey?kya unka Purusharth kahi kho gya ttha jo Atal ji ki Raj-dharm nibhaney ki hidayat pe bhi nahi jaga??????? 14. Abb Delhi mei Malhotra sahib hain. Wo Jansanghi vichardhara (Bhajpayiyon ki apni koi swatantra vichar-dhara hai hi nahi aur wo RSS+VHP ki rajnitik shakha hai) ko agey barhatey huey Okhla k muhallon (zakir nagar, jamia nagar, shaheen bagh, abul fazal) ko Pakistan kehney se baaz nahi ayeye wese muslim bahulya ilaqye ko Pakistan kehney ki jansanghiyon ki purani parampara rahi hai. Agar Pakistan ki jeet per jashn mananey waley Subharti University k Kashmiri shatron ko desh-drohi ki sangya dijaskti hai to Bharat k bhubhag ko Pakistan kehney walon pe kya desh-droh ka muqadma nahi chalne chahye??? Kya Bharat ki dharti ko Pakistani Muhallon ki sangya dena inn Bhajpayiyon aur jansanghiyon ki Zeher Ki Kheti nahi hai????? 15. kya kendra mei NDA sarkar rehtey huey dharma k adhaar per Jammu Kashmir ko teen rajye mei bantney ki parikalpana nahi ki gayi tthi : Jammu (Hindu Bahulye), Kashmir (Muslim Bahulye) aur Laddakh (Buddhist Bahulye). Yeh rashtravaad ttha, desh-bhakti ki koi charam seema tthi.kya ttha yeh?????? Aur jab Asam mei muslim virodhi dangey hotey hain to yehi BJP & Co. dangey ki aanch kam karney k lye kehney lagti hai k ye Hindi Bhashiyon k virodh mei kucch sthaniye kaarno se hua hai isey sampardayik danga ki sangya nahi diya jaye.abb prashn yeh k yeh bhashayi ya shetrye vaad adharait dangey akhir kyun hongey, kaab tak hongey? 16. Pakistan….BJP aur jansanghi vichardhara ki videshniti ka sabse bada astr hai.Pakistan ik chota sa desh Bharat k hathon anginat baar har morchey pe maat khaya hua “failed-state”………lekin iss desh k netagaan hain k ussey agey na khuud sochtey hai nahi desh k logon ko sochney ka maqua dena chahtey hain. Pakistan ka hawwa Pakistan ka darr dikha k raj karney ki rajniti sey kya kabhi Congress alag hui kya kabhi BJP ko chhutkara hasil hua? Bharat k nayey swyun-bhoo Loh-Purush Narendra Modi ko bhi Pakistan Pakistan Pakistan k mala jap rahey hain.kabhi hum China se apni tulna kartey hai phr achanak Pakistan pe utar atey hain. Hadd hogayi???? 17. puri dunia Syria ka grih-yuddh dekh rahi hai.wahan Ameriki gatbandhan ki akad dhili padti jarahi hai.wajeh Asad sarkar k khilaf ladney waley logon ki kamyabi Israel k wujud k lye khatra , shakti pradarsha aur Petro-Politics haath se nikal janey ki sambhavna aur mazboot Arabs k ubharney mei sahayak ho saktey hain islye kaltak jo Asad sarkar ki sena America & Co. k nazar mei shaitan Iran k samarthan se apney vidrohiyon se lad rahi hai usi k khilaf chuppi sadh li hai. Afghanistan mei America & Co. himmat haar chukey so wahan se kab boria bistar lappet k nikal lein pta nahi? Syria aur Afghanistan se aney waley khatrey ko sab mehsoos kar rahe hain yahan tak k khud Pakistan ka wujud bhi khatrey mei paad jayega America & Co. ki wapsi k baad. Hamarey yahan Bharat mein abhi tak Pakistan Pakistan……….Bhajpayi aur janasanghi iss geet k sabse badey singer.ik ajeeb si baat hai jab America & Co. ney Afghanistan pe hamla bola ttha tab hamarey desh mei sabki ek-raye tthi Taliban ukhar phenk diye jayengey kyunki America mahashakti hai aaj hamara kya purey vishwa ka yeh vishwas sapna bann k reh gaya.iss aney waley khatrey se nipatney k lye tathakathit , swaynbhoo Loh-purush Modi ji ya Congress ya tisrey morchey ki kya ran-niti hai??? 18. Abb Arvind Kejriwal bhi Pakistani hathiyaar hain Modi k anusaar.to janab jo Modi se sehmat nahi wo desh-drohi aur Pakistani hai.Kejriwal ki sari baton se sehmat nahi hua jasakta.ik ghar mei maa-baap ki kuchh baton se unkey bal-bachhey sehmat nahi hotey; yahan to rang-birangi rajniti ka prashan hai. Kejriwal ney istifa dia Delhi mei badnami purey desh mei jhel rahey hai: unhoney kya ghalat kia:::- (a) kya Bijli kampaniyon se lekha jokha maang k ghalat kia jo BJP-Congress k ander chhipey rashtrye sampatti harapney waley bhitri bichaulyon ko sanp sungh gya tha? (b) Lok-Pal Bill Kejriwal aur AAP ki pratmikta tthi to gunaah kya hai??? Kejriwal ne jab yeh kaha k Delhi ki purvarti Congress sarkar ney bina kendra sarkar ki manzoori k kuch qanoon bnayey hai so unki AAP sarkar ko bhi yeh adhikar hai. Agar unhoney ghalat kaha to uski janch partal kun nahi ki gayi? Aur agar wo sahi tthey to unka sath kyun nahi dia agar Lok-tantrik vyavastha ko mazboot aur brashtachar mukt samaj bnana hai to? (c) Kyun Delhi Vidhan-sabha k adhkshey ko dhokey mei rakha kar unki hi shakti ko Congress aur BJP ki kutil, ghagh, desh ki lok-tantrik vyavastha k gunehgaar Vidhayakon ney Bill pass karkey kaam kardia?Aisey mei kya Kejriwal aney waley khatron ko bhaanp nahi gaye hongey? (d) AAP sarkar ney Bijli Bill aur muft Pani ki swidha di.unki is pehel ki Congress aur BJP walon ney khoob khilli udayi.mgr kya kisi bhi Congressi ya Bhajpayi ney yeh ghoshna ki k AAP sarkar k iss qadam k hum ghor virodhi rahey hain hain isslye hum purani darr ki hisaab se Bijli bill bharengey aur jal apurti k lye bhiuktaan kartey rahengey????? (e) Mukhyamantri hoker dharney per baith gaye?????mano koi apradh kar dia ya koi alok tantrik qadam uttha dia?Delhi ki police vyawastha kendra sarkar k adheen hai Kejriwal k dharney ka uddyesh tha k Delhi Police Dilli Rajya Sarkar k adheen rahey ismei burai kya tthi? Kya iski maang BJP aur Congress ki rahi Dilli Sarkaron ne nahi ki tthi?Jaab kendra me rehkar UPA li sarkar ney Delhi Police ki Kaman ka tohfa Dilli ki Congressi sarkar (Sheela ji) ko nahi saunpa to Kejriwal ney isi mang ko pura karwaney ki disha pehel kartey huey dharna kar lia to wo apradhi hogaye………Wah? Aisey anginat sawal hain jo mujey parishan kar rahey….raat kafi ho chuki tthi , soney ka samay ho raha ttha magar meri ankhon mei neind nahi tthi. mein soch raha ttha desh ki rajnitik galyaron k andhere sey kya kabhi desh k bhagyodey ka Surya niklega??????

के द्वारा:

बहुत सही मुद्दा उठाया है आपने ,सामान्य जन सिर्फ डर की भाषा समझता है । डर है तो अनुशासन है अन्यथा नही- सरकारी संस्थान हों ,विद्यालय हों या कोई भी सरकारी महकमा ;कर्मचारी समय पर तभी आएंगे, जब बड़े साहब या किसी "महानुभाव "का दौरा हो । अस्पतालों में ,सरकारी कार्यालयोंमें साधारण जन ऐसे हाँके जाएँगे मानो ढोर -ढंगर हों मगर इन्ही बाबुओं और अधिकारियों के व्यवहार में आश्चर्यजनक परिवर्तन आप परिलक्षित कर सकते हैं जैसे ही ये पता चले कि फलां आदमी पत्रकार है ,पुलिस का आदमी है, सत्ता पद का मामूली कार्यकर्ता भी है --कुल मिला करलब्बो -लुआब मतलब यही निकलता है भैया कि --भय बिनु होंहि न प्रीत --यही मानव स्वभाव है ।

के द्वारा: kavita1980 kavita1980

के द्वारा: jlsingh jlsingh

के द्वारा:

के द्वारा: jlsingh jlsingh

              ATTENTION HINDU RELIGION OBC WEAKER SECTION AND SC / ST STUDENT / SENIOR PERSONS BLOGG/JOURNAL- IN INDIA, HINDU RELIGION INDIVIDUAL CASTES BIG ROLE OF POVERTY SOLUTION SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND MBBS / MD / MS DEGREE / PROFFESION HINDU RELIGIONI NDIVIDUAL CASTES POVERTY SOLUTION AND BUSINESS (INDUSTRY), IN INDIA HINDU RELIGION, INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE, POWER (DABANG), BUSINESS (INDUSTRY) LAND OWNER, GOVT TENDER VERY-VERY BIG ROLE OF INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND MBBS / MD / MS DEGREE PROFESSION .... . ........ ... ALSO READ MY BLOG-http :/ / mantusatyam.blogspot.com/2013/08 / ....... BY MANTU KUMAR SATYAM,, Religion-Hindu, Category-OBC (Weaker section), caste-Sundi (OBC weaker section), SEX-MALE, AGE-29Y Add-s/o.SHIV PRSAD MANDAL, FRONT BAIDYNATH TRADING / HARDWARE, AIRCEL MOBILE TOWER BUILDING, CHOICE EMPORIUM SHOP BUILDING, Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir, castair town, SARWAN / SARATH MAIN ROAD,, DEOGHAR, DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112, INDIA. MY VOTER ID CARD DETAIL-CONSTITUTION DEOGHAR ASSEMBELY, DIST-DEOGHAR, JHARKHAND, INDIA, VOTER ID CARD NUMBER-MQS5572490, AADHAR CARD ENROLLMENT NUMBER-2017/60236/00184, DATE-10/12/2012, TIME-13: 43: 52, AADHAAR NUMBER-310966907373) occupation-MSCCRRA study from SMUDE, SYNDICATE HOUSE, MANIPAL KARNATAK, POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS, NEW DELHI (SESSION-2012-14, 2ND YEAR) ........... BLOG DETAIL-concerned, political, economical and social in reference INDIA, HINDU RELIGION caste system social structure, caste power (DABANG), business (INDUSTRY) and development. My content in INDIA like HINDU RELIGION complicated caste system, caste power (DABANG), development or advancement or business (INDUSTRY) in social structure. In INDIA HINDU RELIGION any caste / INDIVIDUAL CASTES sufficient NUMBER of LLB / LLM and MBBS / MD / MS degree or profession very big and very-very IMPORTANT role of advancement or development, power (DABANG) and business are in social structure.In reference of other profession officers and politicians very - very small role or huge difference COMPARISON than LAW and MBBS / MD / MS HINDU RELIGION complicated caste structure of caste development, POWER and business. If individual castes have sufficient number of 10% lawyer MBBS / MD / MS the casts benefit of 10% of sufficient number. SUFFICIENT NUMBER LAWYER WITH MBBS / MD / MS OF HINDU RELIGION OF INDIVIDUAL CASTES FACE / SOLVE ALL ARISE POLITICAL PROBLEM OF DEVELOPMENT. . Its important in other word say it, IN INDIA, HINDU RELIGION GENERAL CASTE (BRHAMAN, BHUMIHAR, RAJPUT, KAYASTH, KSHYATRIYA) or any other caste to now time do huge scale of business, govt tender, land owner etc. Have not possible of without sufficient no. of LAWYER and MBBS / MD / MS degree of individual general castes, HINDU RELIGION, INDIA for the maintain of caste power, advancement / development like huge scale of business, land owner and govt tender. Without sufficient no.of LAWYER and MBBS / MD / MS degree HINDU RELIGION, general caste / and other huge scale of business, INDIA (due to same of complicated HINDU RELIGION, CASTE social structure in INDIA) have many factors / issue arises of huge scale business, huge scale LAND OWNER, GOVT. TENDER etcIts have to said very-very big problem or have not possible. Also it have to say in deep of collaboration of one caste to other caste, HINDU RELIGION, INDIA have sufficient NUMBER of LAWYER and MBBS / MD / MS In some cases it have to seen. Increase of business but it have not increase of own caste power without sufficient no. of LLB / LLM and MBBS / MD / MS degree In under of the self / own HINDU religion (minority CASTES), INDIA of complicated caste structure face very-very basic problem of life concerned of other then development without sufficient NUMBER of lawyer and MBBS / MD / MS DEGREE. Its have not any advantage of more people and its benefit of other profession like politicians and officers. Very-very small chances to join of politicians and officers (few number) two or three) rather then more peoples caste thousands to thousands. It also have to be seen census of India of HINDU RELIGION CASTE development in social structure with time. It have to be seen in INDIA HINDU RELIGION scenario minority caste have to huge benefit in some year join the sufficient NUMBER of lawyer and MBBS / MD / MS degree more development like power business complicated caste social structure rather then SC / ST join the profession politicians and officers in long to long time / year in same conditions.Also they caste have sufficient number lawyer acquire good manage of land owner in caste participate already in past time land have not exist but acquire rather then SC and ST. It have to understand on the concept of constitution of INDIA in political power increase (In political power hidden of economic power) of backward caste in HINDU RELIGION reservation of politicians and officers. In the point of the view NORTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of LLB / LLM. Also KURMI caste in BIHAR / JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers. Also have some number of MBBS / MD NOTE-In the point of view LLB / LLM and MBBS / MD / MS not meaning of only court and medicine practice (ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective / efficient due to key point / key master of caste power, business, land owner, govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and MBBS / MD / MS, by which caste persons LAWYER and MBBS / MD / MS degree or professionals occupied have not done self / own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business (INDUSTRY) ........... NOTE-In the point of view B.TECH / M.TECH and MBA have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion, INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand, complicated issue from powerful castes etcBut it have not problem of HINDU RELIGION more peoples caste (not minority), caste in INDIA. NORTTH INDIA YADAV caste have sufficient NUMBER of LLB / LLM. Also KURMI caste in BIHAR / JHARKHAND have not sufficient NUMBER but good number of lawyers.Also have some number of MBBS / MD /M.S...... NOTE-In the point of view LLB / LLM and MBBS / MD / MS not meaning of only court and medicine practice (ONLY) but also have self business by person occupied the degree more to more effective / efficient due to key point / key master of caste power, business, land owner, govt. tender.But which caste have sufficient NUMBER of lawyer and MBBS / MD / MS, by which caste persons LAWYER and MBBS / MD / MS degree or professionals occupied have not done self / own business in the point of diplomatic view of hidden of power of doing business (INDUSTRY) NOTE-In the point of view B.TECH / M.TECH and MBA have not any role of caste POWER, development and business in HINDU religion, INDIA.But only like a simple job also in simple job arises many complicated issue like Industry demand, complicated issue from powerful castes etcBut it have not problem of HINDU RELIGION more population caste in INDIA ....... ALSO READ MY OTHER BLOGS, NEWS CHANNEL AND COMMENT IN MANY IN GOOGLE PLUS Http://WWWlJAGRANJUNCTIONlCOM BUROCRACY IN INDIA, GANGESTER COMPOSITION IN INDIA, THE COMPLETE PATH OF YOGA, meditation POSE THE POWERFUL ETC ........ 5

के द्वारा:

आदरणीय मधुरेश जी, सादर अभिवादन! आप शायद अहमदाबाद में दिए गए नरेंद्र मोदी के भाषण को नहीं सुना - या सुना भी तो उसको अपने चिह्नित करने लायक नहीं समझा(?) नरेंद्र मोदी अहमदाबाद में कह रहे थे - गजब का धैर्य है बिहारियों में ... २ नवंबर को पटना में बिहारियों के धैर्य की प्रशंशा कर चुके थे. उन्हें लगा होगा कि बिहारियों में समझदारी की भी कमी है. .. वे कह रहे थे - आप लोग यहाँ मेरा भाषण सुन रहे हो... कोई जोर से चिल्ला दिया सांप!... सांप ! तो क्या आपलोग भागोगे नहीं? लेकिन देखो बिहारी लोग कितने धैर्यवान होते हैं. ... उधर बम फट रहा है फिर भी मेरा भाषण एकगरचित्त होकर सुने जा रहे हैं ...उसके बाद भी आज तक उनमे कोई हरकत नहीं हुई?......गजब का धैर्य ....

के द्वारा: jlsingh jlsingh

I MANTU KUMAR section & minority), weaker section PRSAD MANDAL,AIRCEL MOBILE TOWER, Near jamuna jour pool, near ramjanki mandir,castair town,SARWAN-MAIN ROAD, ,DEOGHAR,DISTRICT-DEOGHAR, JHARKHAND-814112,INDIA occupation- MSCCRRA study from SMUDE,SYNDICATE HOUSE ,MANIPAL KARNATAK, POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS FROM INDIAN INSTITUTE OF HUMAN RIGHTS ,NEW DELHI (SESSION-2012-14)(ONE YEAR POST GRADUATE DIPLOMA IN HUMAN RIGHTS COMPLETE Matter is After below paragraph concerned of poverty in india blog concentrate of poverty remove of HINDU religion of weaker section and publish of many news channel/paper of internet mode like blog,comment, google plus and facebook ( also facebook of loksbha After then 300 people of HINDU religion genral castes( brhaman ,bhumihar and rajput)of LOCAL CITY DEOGHAR,DIST-DEOGHAR,JHARKHAND-814112 I well known by face and address of the people have mixed accidental drug effect on body and mind ,narco drug and other many type side effect drug in my food and water from DATE-3o/07/2013 PEOPLE THREATEN BY WEAPON TO ME MURDER WITH MY WHOLE FAMILY THREATEN TO ME problem till now I COMPLAIN TO NHRC ,NEW DELHI ,INDIA by e-mail ON DATE -23 /09 /2013 ,DATE 27/०९/२०१३ AND DATE -06 /10 /२०१३  and date-9/10/2013 to NHRC,NEW DELHI ,INDIA WITH SOME LEADING PERSONS NAME MENTION .APPLICATION .ALSO COMPLAIN IT ON DATE -6 /10 /2013 for free legal ऐड DLSA, Deoghar ,Address DLSA, Deoghar Civil कोर्ट, झारखण्ड,इंडिया प्रॉब्लम till now continue MY BLOG- IN INDIA POVERTY SOLUTION AND BUSINESS(INDUSTRY) INDIVIDUAL CASTES HINDU RELIGION ,IN INDIA HINDU RELIGION ,INDIVIDUAL CASTES POVERTY REMOVE ,POWER(DPOVERTYABANG),BUSINESS(INDUSTRY) LAND OWNER ,GOVT TENDER VERY-VERY BIG ROLE OF INDIVIDUAL CASTES SUFFICIENT NUMBER LAWYER AND DEGREE/ PROFESSION

के द्वारा:

के द्वारा:

सरकारी तंत्र ...जब आग लगे तब कुआं खोदो ... आग अपने आप बुझे तो बुझे किन्तु कुएं खोद देने में कमीशन न मारा जाए ..और यदि कमीशन नहीं मिला तो फिर भाड़ में जाए दुनियादारी ...कितने अफसर हैं जो वास्तव में योजनाओं को सही तरीके से समझ कर लागू करने को इच्छुक हैं..अव्वल तो किसी भी जन हित के कार्य को अंजाम देंगे नहीं और यदि किसी तरह मान भी गए तो पहले अपना उल्लू सीधा करेंगे.. रही सही कसर अफसरों की आपसी खींचतान से पूरी हो जाती है ..हर कोई बॉस के सामने अपने लिए अच्छी छवि बना लेना चाहता है . चाहे काम धेले का न हो पर काम होता हुआ दिखे .. जब बात जिम्मेदारी की उठे तो बड़ा अफसर छोटे अफसर पर थोपेगा...छोटा अफसर अपने मातहतों को धमकाएगा. मातहत अपने सिर काम के बोझ को रोयेगा.. और फिर बात आकर व्यवस्था पर ठहर जायेगी..

के द्वारा: dhananjaynautiyal dhananjaynautiyal

जब जब केंद्र में कांग्रेस का शासन रहा है तब तब इस राष्ट्रिय पार्टी ने राष्ट्रीयता को भूलते हुए उन राज्यों के साथ हमेशा सौतेला ब्यवहार किया जिस राज्य में उसकी पार्टी की सरकार नहीं रही और यही कारन है इस देश में दो देश बसने लगा एक भारत और दूसरा इंडिया आखिर ऐसा किसी और राष्ट्र में होता होगा क्या ? कतई नहीं कोई कांग्रेसियों से पूछे अगर किसी राज्य में कांग्रेस पार्टी जीतकर सत्ता में न आ सकी इसमें उस राज्य के वासियों का क्या दोष है अगर कांग्रेस उन राज्यों में विकास कार्य को करती तो उन राज्यों से लाखों की संख्या में लोग देश की राजधानी दिल्ली में रोजी रोटी की तलाश में पलायन क्यूँ करते आज दिली में बिहार वासियों की संख्या राजधानी की कुल आबादी का ४० से ५० प्रतिशत है हालाँकि दिल्ली में तो और राज्यों से भी लोग आये हुए हैं और वाही लोग दिल्ली की विकास में अपना योगदान दे रहे हैं अगर जिस तरह से दिल्ली में सुविधाएँ लोगों को मिल रहीं हैं वाही सुविधा उनको अपने राज्य में मिलती तो वे कभी अपने परिवार से दूर दिल्ली नहीं आते यह सब कांग्रेस की नीतियों का परिणाम है और दिल्ली में भीड़ बढ़ने का मुख्य कारन भी यही है और इसी दिल्ली में जो लोग झुगियों में रहते हैं या अनधिकृत कालोनियों में रहते हैं वहां बुनियादी सुविधाएँ तक नहीं हैं जब जब चुनाव आता है हजारों की संख्या में दिल्ली सरकार अनधिकृत कालोनियों को सुविधाएँ देने के नाम पर अधिकृत करने का वादा कर देती है पर वहां जाकर कोई देखे वे लोग कैसी गन्दगी में रहते हैं जहाँ न सीवर लायीं है न सड़क न पीने के साफ पानी की ब्यवस्था और सरकारी दावा है की दिल्ली में रहने वालों की आमदनी और प्रदेशों में रहने वाले ओगों से कहीं ज्यादा है हो सकता है आमदनी ज्यादा हो भी पर उनकी रहने की क्या दशा है इसको भी कोई सरकार देखती है यही कारन है सरकारी उदासीनता और नेताओं का जनता के प्रति संवेदनहीन होना हीं भारत और इण्डिया का फर्क बताता है अब देखना है कब ये पार्टियाँ ये नेता इस देश को केवल एक देश में बदल पाएंगे अमीरे गरीबी की बढती खायी को कुछ कम कर पाएंगे वो कहते हैं न आशा और उम्मीद पर दुनिया कायम है अपने देश वासी भी उम्मीद के सहारे जीना जानते हैं और इन्तेजार में हैं "वो सुबह कभी तो आएगी "

के द्वारा: ashokkumardubey ashokkumardubey

अत्यंत प्रभावी व्यंग्य आलेख; साधुवाद एवं सद्भावनाएँ ! "मैं थोड़ा कन्फ्यूज्ड हूं। कुछ नाम को लेकर अब भी घर में बहस चल रही है। उनका कालखंड तय नहीं हो पा रहा है। भई, मैं तो यह मानता हूं कि उनका कालखंड नहीं है। वे तो भगवान के साथ हमेशा से जिंदा हैं। अब भी हैं। मैं देख रहा हूं कि चाहे चंड-मुंड, शुंभ-निशुंभ, मधु-कैटभ हो या महिषासुर …, इनका पूरा खानदान मस्त है। चाहे कालनेमि हो या मारीच ये सुविधा, अपने फायदे व मौके के हिसाब से हर वेष मजे में धारण किए हुए हैं। आजकल ये पूरी तरह आदमी दिखते हैं। आम आदमी के यज्ञभाग को बस अपना मान पूर्णता में भोग रहे हैं। हां, एक फर्क है-अब ये सीधे आदमी का कच्चा मांस नहीं खाते हैं, बल्कि अपने कांटीनेंटल डिश के लिए आदमी को तिल-तिलकर मारते हैं। आज भी रक्तबीज का एक बूंद खून रक्तबीज जैसे बलवान को बखूबी पैदा कर रहा है। रक्तबीज मर नहीं रहा है। संपूर्णता में भक्षण की ताकत या रणनीति किसी के पास नहीं है।"

के द्वारा: Santlal Karun Santlal Karun

मधुरेश जी , क्या आप नितीश कुमार और बिहार की कैबिनेट द्वारा शिक्षकों के स्थाई पदों को समाप्त कर उसकी जगह ठेका ब्यबस्था को लागु कर देने को उचित कदम मानते है. इस समय शिक्षकों की सवाल को राजनातिक रंग देने की कोशिस की जा रही है. नितीश जी ने अपने ७ साल के सासन में बिहार की शिक्षा बय्ब्स्था की जरों (roots) में जहर डालने का ही काम किया है . लालू लाख बुरे सही फिर भी उन्होंने शिक्षकों की बहाली का अधिकार जाहिल और भ्रस्त मुखिया या परमुखों को नहीं दिया था .क्या आप चाहते है की बिहार के शिक्षक अपने पेट पर पत्थर बांध कर इन नेताओं के जय जयकार का नारा लगायें तो यह सम्व्हब नहीं है.कृपया शिक्षकों के सवाल को ब्यंग में उङाने का प्रयास न करें, शिक्षक इतने मुर्ख नहीं है की लालू या किसी और के बहकाबे में आ जाएँ . बिसेष राज्य का दर्जा इस समय बिहार के खा पि कर मोटायें लोगों की जरुरत है. आम और गरीब लोगों को अपनी समस्यों का हल चाहिय. ये नेता अपनी नाकामी को छुपाने के लिए इस प्रकार का प्रपंच रच रहें है ,बिहार के लोग भी इसे समझ रहें है(ac कमरों में बैठे लोगो को सायद यह न दिखे ) बर्ना तमाम बंदिशों(काले कपरे पर रोक,गया में 500 शिक्षकों की गिरफतारी,खगरिया और मधुबनी में 77 शिक्षकों की बर्खास्तगी, CM के अधिकार यात्रा बाले जिले में शिक्षकों की छुटियाँ रद्द कर देना, गया शिक्षक निर्बाचन छेत्र के MLC को हाउस अर्रेस्ट ) के बाबजूद आज नवादा में उन पर फिर से चप्पलों की बारिश नहीं होती (हालाकी शिक्षकों ने ऐसा नहीं किया क्यूंकि उन्हें तो वहां के डी.इ.ओ. द्वारा ट्रेनिंग के नाम पर नजरबन्द रखा गया था ). इससे यह जाहिर होता है की जनता भी इनके प्रपंच को समझ गयी है और इन्हें जनता के सबालों का जबाब देना चाहिएं .....................

के द्वारा: teacherbihar teacherbihar

मधुरेश जी, मेरे अनुमान से मुख्यतः ये योजना गरीब तबके के ऐसे परिवारों के लिए है जहां पति दिन भर कमा के शाम को दारु पीकर चला आता होगा और घर का खर्च पत्नी द्वारा काम करके कमाए गए पैसों से चलता होगा....साथ ही कुछ तो ऐसे पति ज़रूर होंगे जो पत्नियों को अपनी कमाई नहीं सौंपते होंगे....अब ऐसे में पत्नी को पति की कमाई का दस फीसदी भी मिल जाएगा तो उसका कुछ तो भला हो ही सकता है.... साथ ही इस योजना का विरोध करने की तो कोई वजह नज़र ही नहीं आती क्योंकि जो लोग अपनी सारी कमाई पत्नी को दे सकते हैं उनके लिए पत्नी के नाम पर दस फीसदी उसके खाते में जमा करना कौन की बड़ी बात है......हाँ एक संभावना ये ज़रूर है की कुछ दबंग पति पहले दस फीसदी पत्नी के खाते में जमा करे और बाद में पत्नी को साथ ले जाकर वह पैसा वापस निकलवा लें......कुछ भी हो वस्तुस्थिति में बदलाव लाना बहुत आसान नहीं है...

के द्वारा: Anil Kumar "Pandit Sameer Khan" Anil Kumar "Pandit Sameer Khan"

माओवादी कौन है इसे समझाने के लिए डॉ.अमबेडकर द्वारा संविधान सभा में गणतंत्र दिवस की पूर्व अपने अंतिम महत्वपूर्ण भाषण पर निगाह डालना होगो जिसके अनुसार ------ " कल से हम एक ऐसे युग में प्रवेश करने जा रहे है जहा हम एक व्यक्ति एक वोट को मान्यता दे रहे होगे वही कुछ सामाजिक एवं आर्थिक कारणों से हम इससे इंकार कर रहे होगे/ जितनी जल्दी हो सके असमानता को समाप्त करना होगा नहीं तो हासिए के बंचित एवं उपेक्चित लोग इस लोकतान्त्रिक ढांचे को उखाड़---फेकेगे जिसे हम लोगो ने इतने मेहनत से बनाया है| आपको यह भी ध्यान रखना चाहिए कि आज हम जिन स्थितिओ का सामना कर रहे असमानता का प्रतिशत लाखो गुने का हो चूका है और अभी बढ़ता ही जा रहा है.आखिर क्यों आजादी के ६५ साल बाद ही सरकार को एकाएक आदिवासियो के विकास हेतु चिंतित होने लगी क्या इसी लिए कि आदिवासियो के निवास स्थानों के गर्भ में सोने,.चाँदी लोहे,इत्यदि का जखीरा है तो फिर तो जबर्दस्ती आदिवासियो को अर्धसैनिक बलोंऔर कोबरा बटालियन इतादी कुख्यात नामो से लैश आपरेशन -ग्रीन-हंट द्वारा आदिवासियो के सफाए से बचाने के लिए जिन्हें भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय के अनुसार आजादी के बाद ४०%आदिवासियो का विस्थापन एक या एक से अधिक बार हो चुका है. जहा तक बात बिहार की है तो आखिर क्यों संवैधानिक प्राविधानो के अनुसार न्यनतम मजदूरी के लिए हमेशा संघर्ष रहा है १९४९ में मैहर में पहले डैम का उदघाटन के अवसर पर इसे विकास का मंदिर कहा था लेकिन शर्म की बात है कि उस मंदिर के भूमि अधिग्रहण का मामला अदालतों में घिसट रहा है. धूमिल ने इन्ही के बारे में कहा था कि ------ फैली हुई हथेली का नाम गाय है और,बढ़ी मुठ्ठी का नाम नक्सलवादी है :| |

के द्वारा:

सभी को प्रणाम,   कुछ लोगों को किसी की भी हँसी उड़ाने और व्यंग वाण चलाने के लिये किसी आसन की आवश्यकता नहीं है। अन्ना या बाबा रामदेव जो संघर्ष और जितना संघर्ष कर रहे हैं उसका एक प्रतिशत भी कोई कर के दिखाए फिर इन लोगों का उपहास उड़ाने की चेष्टा करे।    कुछ करने वाले और उनकी आलोचना करने वाले सभी महत्वपूर्ण हैं, लेकिन इतिहास करने वालों के नाम पर लिखा जाता है, आलोचकों के लिये नहीं। कोई किसी लालच से भ्रष्टाचार और काला धन के मुद्दे पर आन्दोलन चला रहा हो लेकिन ऐसे आन्दोलन चलाना कितना आसान और कठिन है सोचने की बात है। सभी के पास इतनी शक्ति,ज्ञान,योग्यता,संयम और समाज में प्रभाव नहीं होता कि ऐसा आन्दोलन लम्बे समय तक चला सके।अन्ना जी और रामदेव जी जैसे लोगों ने समाज मे कुछ ऐसा स्वंय करके अपना  प्रभाव बनाया है कि इतनी बड़ी संख्या ने जनसमूह उनका साथ देता है और अनुशासन का उल्लेखनीय उदाहरण प्रस्तुत करता है।       लेकिन जिनके पास इतनी शक्ति,ज्ञान,योग्यता,संयम और समाज में प्रभाव नहीं होता  व्यवस्था के विरुद्ध वे हिंसा का सहारा लेते हैं। ऐसे कई हिंसक आन्दोलन देश में चल रहे हैं जो किसी विशेष वर्ग या क्षेत्र के हित के लिये है या हित के बहाने से कुछ लोग सामानान्तर सत्ता चला रहे हैं लेकिन उस गुट के मुखिया का उपहास उड़ाने की हिम्मत नहीं कर सकते।      यही अपना देश और देशवासी हैं जो देश हित की बात करने वालों को भी व्यंग का विषय बना लेते हैं।    जाकी रही भावना जैसी........

के द्वारा:

मेरी राय में माओवादी वाही है जो समाज में बैमंशय फैलाकर गरीब और पिछड़े वर्ग के लोगों को गुमराह करने का कम करता है और यह सीख उनको वर्तमान पार्टी नेताओं से मिली है आज नेता क्या कर रहें हैं चाहे वे किसी पार्टी के हों , वे केवल और केवल समाज में जात पात एवं संप्रदाय के नाम पर झगडे बढ़ने का कम कर रहें हैं उनको पता है जब समाज बता रहेगा तो ये पार्टी नेता किसी एक जाती या समुदाय को बरगला कर उन्हें झूठा आशवासन देकर चुनाव जीत लेगा और फिर तो वह वाही करेगा जो आज दीखता है भले यह अनपढ़ गवार जनता अपने वोट की कीमत न समझती हो और न यह समझती हो जो लोग उसे सब्जबाग दिखा रहें हैं वे चुनाव बाद उन्हें दिखाई भी नहीं देंगे और उनको जो आज प्राप्त है वे उससे भी मोहताज हो जायेंगे क्यूंकि हर चुनाव में कोई नया आरक्छन देने का वैयदा ये नेता कर देते हैं और धीरे धीरे यह आरक्छन भी सौ प्रतिशत हो जायेगा फिर ये किस बिरादरी को आरक्छन देंगे आज जो जाट आन्दोलन हो रहा है यह उसी आरक्छन के लौलिपप का परिणाम है और यह माओवादी भी हर चुनाव में अपना शक्ति परिक्छां करते हैं खुद चुनाव नहीं लड़ते तो किसी पार्टी को जितने का ठेका भी लेते हैं क्यूंकि वे बीहड़ो और जंगलों में रहते हैं और चुनाव के समय वे आम जनता के बीच घुल मिल जाते हैं और जो उनके जंगल राज को जिन्दा रहने देने में मदद करने का आश्वासन देता है उसे चुनाव में जीत दिलाने का कम करते हैं चुकी अब चुनाव आयोग भी कुछ हद तक बूथ कब्जे खिलाफ कार्रवाई करने लगा है तो ये लोग रात में गरीबों की बस्ती में डरा धमका कर भी वोट दिलवाने का कम करते हैं और यह बिहार में अभी भी होता है कुछ इलाकों में और यही कारन है की इस देश की पुलिस और सुरक्छा बल इनको पकड़ने में कामयाब नहीं हाँ पुलिस एवं एनी सुरक्छा बालों की जान पर आफत जरुर है और उनकी जान चली जाये तो मलाल इसका किसको है अपने देश में बेरोजगारी आज इतनी बृहद स्टार पर है की लोग पैसे देकर जान गवाने के लिए तैयार हैं यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण सत्य है यहाँ कोई बहाली बगेर पैसे दिए होती नहीं इसलिए भी जो जवान सब तरह से उस पद के लिए योग्य होते हुए भी घुस नहीं देने के चलते उस रोजगार से भी वंचित रह जाता है और वह इतना निराश हो जाता है की फिर किसी ऐसी संस्था के साथ हिन् जुड़ जाता है कम से कम अपने जान का रस्क लेकर परिवार तो पलता है आज देश की यही सच्चाई है और इस अमोवाद ने अभी और मजबूत होना है क्यूंकि यह सरकार द्वारा पोषित दल है एक अच्छा लेख आपने लिखा है धन्यवाद

के द्वारा: ashokkumardubey ashokkumardubey

के द्वारा:

अफसर जैसा आपने लिखा है वही कर रहे हैं ,जब भी किसी अफसर के खिलाफ आरोप लगता है वह अदालत की शरण में जाता है और अदालत में जो बुद्धिमान वकील बैठा है वह गारंटी लेता है मेरी फीस दे दो मैं तुम्हे बरी करा दूंगा और वे बरी हो भी जाते हैं क्यूंकि भारतीय कानून ब्यवस्था में सजा का प्रावधान कतई है ही नहीं अगर ऐसा होता तो आज इस देश के प्रधनमंत्री सबसे पहले जेल के अन्दर होते अफसर की बात बाद में करियेगा जो सरकारी वकील होते हैं वे दोषी अफसर से मिलकर उसे सर्कार की क्या कमजोरियां हैं वह बता देते हैं और इस बिना पर अफसर छूट जाते हैं अतः कायदे कानून की बात करना आज अपने इस विशाल लोकतंत्र में कोरा बकवास है पर हम आप निराश न हों भगवन के घर देर है अंधेर नहीं बस वक्त का इन्तेजार कीजिये , सब कुछ ठीक हो जायेगा ये अफसर भी अपना कम करने लगेंगे और अदालत भी दोषियों को सजा दिलवाएगा

के द्वारा:

के द्वारा:

के द्वारा:

आदरणीय मदुरेश जी, बिहार के पहले उप मुख्यमंत्री सह वित्त मंत्री अनुग्रह नारायण सिंह  आधुनिक बिहार के निर्माताओं में से एक थे। गांधी जी का जिन नेताओं ने चंपारण में साथ दिया था, उनमें बिहार विभूति अनुग्रह बाबू प्रमुख थे। उन्होंने कई बार जेल यातनाएं सहीं। इस तेजस्वी महापुरुष ने महात्मा गांधी एवं डा. राजेन्द्र प्रसाद के साथ राष्ट्रीय आन्दोलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी थे। उनके पुत्र सत्येंद्र नारायण सिन्हा देश में अपनी सैद्धांतिक राजनीति के लिए चर्चित हुआ करते थे।स्वतंत्रता संग्राम में भागीदारी के बाद देश की आज़ादी के समय राष्ट्रीय राजनीति में सत्येंद्र नारायण का नाम वज़नदार हो चुका था।उनकी पहचान, हैसियत व वजूद खुद कीरही।सत्येन्द्र नारायण सिन्हा के प्रोत्साहन पर आपातकाल आन्दोलन से नितीश कुमार,नरेन्द्र सिंह,रामजतन सिन्हा,लालू प्रसाद यादव,रघुवंश प्रसाद सिंह,सुशिल कुमार मोदी,रामविलास पासवान और सुबोधकान्तसहाय सरीखें तात्कालीन युवा नेता निकले|

के द्वारा:

के द्वारा: ajaydubeydeoria ajaydubeydeoria

के द्वारा: ajaydubeydeoria ajaydubeydeoria

के द्वारा:

के द्वारा:

के द्वारा: Rakesh Rakesh

के द्वारा:

के द्वारा: sonuggi sonuggi

काफी मिहनत और शोध आपने इस व्यंग्य कथा में किया है. आज ही मैने बाबाधाम के पंडा के मुख से सुना- बाबा धाम कब बैष्णो देवी, बालाजी, पुत्तुपर्सी, या पद्मनाभ के तुल्य में आयेगा. यह भी विशेष धाम की श्रेणी में स्थान चाहते हैं. हमारे भोले बाबा केवल बेलपत्र और गंगाजल में खुश हो जाते है. वे अपना चढ़ावा इस महंगाई के जमाने में भी सवा रूपया रखे हुए हैं जबकि अब चवन्नी दुर्लभ हो गयी है, हमारे भक्तजनों को इतना तो ख्याल रखना चाहिए कि सवा रुपये की जगह सवा सौ रुपये चढ़ाएं. मान नीय सांसद महोदय भी यही रोना रो रहे थे यहाँ से कोई प्रणव मुखर्जी क्यों नहीं बनता? निशिकांत झा आखिर जगन्नाथ मिश्र भी तो नहीं बन पाए.

के द्वारा:

I ask Mr. Digvijay Singh, Kapil Sibal, Mr. P. Chidmabram , Mr. Manmohan Singh and Ms Sonia Gandhi whether Mr. A Raja, Ms Kanimojhi, Mr. Kalamadi, Mr. Madhu Koda, and several other leaders of UPA agents of RSS and BJP and are they bent upon tarnishing the image of Holy Congress Party? I ask Congress Party leaders whether CAG which submitted report of loss to the tune of 170000 crores to central government caused by illegal actions of Mr. Raja in allocation of 2G spectrum is also RSS agent. I ask leaders of Congress Party whether Supreme court is also agent of RSS and BJP because it is Supreme court which is looking into cases of corruption related to CWG, 2G etc I ask Subodh Kant Sahay central minister whether Chief Justice of Jharkhand High Court is also agent of RSS, BJP and BHP because it is he whose (retired in May 2011) orders forced Jharkhand government to remove encroachment from Naga Baba Khatal and Islamnagar in Ranchi . Latest order given by High Court Ranchi has given instruction Central Government to ensure eviction of illegal occupants from the premises of CCL, BHEL, SAIL like PSUs within 30 days. Mr. Sahay may say that this order is also provoked by RSS and BJP. It is important to mention here that Subodh Kant and his other colleagues in Congress Party had recommended for President’s rule in Jharkhand on the ground of brutal firing in Ranchi at Islamnagar during encroachment removal drive carried out by Jharkhand government as per High court orders. Will Congress Party now demand dismissal of Delhi government for brutal firing on sleeping Satyagrahis on 4th June midnight Alleged RSS agent Ramdeo Baba has declared assets of his trust and source of fund as desired by leaders of Congress Party. Now it is the turn of Rahul Gandhi and Sonia Gandhi to declare the assets and source of fund related to various trusts owned directly or indirectly by Gandhi family.

के द्वारा:

के द्वारा:

के द्वारा:

के द्वारा:

के द्वारा:

के द्वारा:

व्‍यवस्‍था का यह रूप जो आपने दिखाया है, यह अब सर्वव्‍यापी हो चुका है। पटना-दिल्‍ली ही नहीं, छोटे-छोटे शहरों तक। छपरा का ही हाल देखिए। नगर परिषद पर सफाई का जिम्‍मा है लेकिन वह खुद कूड़ेदान बना हुआ है। परिसर देखने से किसी कबाड़खाने की याद आती है। इनके पदाधिकारी भी कार्यालय के मुताबिक फिट बैठ गए हैं। 3 दिन पहले की बात है। छपरा शहर के एक मुहल्‍ले की खबर छपी। यहां पिछले कई वर्षों से सड़क पर ही नाला बहता है और इस कारण लोग अपनी बेटियों के रिश्‍तें लेकर यहां नहीं आ रहे। बेचारे युवक नगरपरिषद की कृपा से शादी को तरस रहे हैं। कार्यपालक अभियंता ने कहा कि उन्‍हें जानकारी नहीं थी, हुई है तो कल ही सफाई करा देंगे। तीन दिन बीत गए, जनाब का कल नहीं आया। ...... बेहद शर्मनाक स्थिति। कर्तव्‍यहीनता के ऐसे अनगिनत उदाहरण। आप जारी रहिए, ये सुधरने वाले नहीं हैं।

के द्वारा:

के द्वारा:

वास्तव में सी बी आई का तो खुद अस्तित्व ही अवैधानिक दीखता है क्योंके इस संस्था को खड़ा करने के लिए कोई Act ही नहीं है | यह दिल्ली पुलिस के एक्ट के तहद काम करती आ रही है और एक पृष्ट का notification छाप का इसे खड़ा कर दिया गया है | इसका अपना कोई अफसर भी नहीं होता | सब उधार के होते हैं | देश की बाकी पुलिसों में जो जो फिट नहीं हो पाटा उसे इस में भेज दिया जाता है | काम का कोई चार्टर ऑफ़ ड्यूटी नहीं | अगर विदेश में कोई छानबीन का छोटा मोटा काम भी हो जिसे एक इंस्पेक्टर भी निपटा सकता हो तो उस के लिए बॉस खुद जाते हैं और कोशिश करते हैं के वो काम एक बार में न निपटे बलके बार बार जा सके | अगर देश के अन्दर का कोई बिना मलाई वाला काम हो तो उसे उन लोगों को थमा दिया जाता है जो मेहनती हों ( बदकिस्मती से ऐसा आदमी कभी कभी इस संस्था में भी पाया जाता है )| ज्यादातर लोग किसी investigation का ड्यूटी स्लिप बनवा कर बारात भ्रमण करते हैं और TA बिल पास करवा लेते हैं | ये संस्था देश पर एक बोझ के अलावा और कुछ नहीं है | होना ये चाहिए के केंद्र का एक जस्टिस मंत्रालय बनना चाहिए और सारा न्याय तथा अन्वेषण तंत्र उस के अंडर रहना चिहिए | इसे संवैधानिक संस्था के तौर पर स्वतंत्र सस्ता बनाया जाना चाहिए तभी इसकी उप्योदिता होगी |

के द्वारा:

के द्वारा: MANOJ KUMAR MANOJ KUMAR

मधुरेश जी, हमारे देश में लोकतंत्र के नाम पर जो नॊटंकी पिछले 63 साल से चल रही हॆ,उसमें बाबा रामदेव का ’एंटी करेप्शन आसन’ तो क्या कोई भी आसन काम नहीं कर सकता.देश में भ्रष्टाचार एक महामारी का रुप ले चुका हॆ.जब कोई रोग महामारी का रुप धारण कर ले,तो उसका ईलाज इतना आसान नहीं होता.भयंकर बीमारी के उपचार हेतु योग में पंचकर्म की पद्धति अपनाई जाती हॆ जिसमें पहले सारे शरीर की शुद्धि की जाती हॆ.पंचकर्म के बाद ही कोई दवा या आसन कारगर होता हॆ.लगता हॆ अपने देश की व्यवस्था में जो भ्रष्टाचार जॆसे महारोग लगे हॆं-उनके ईलाज के लिए पहले पंचकर्म की आवश्यकता पडेगी.फिर भी जरुरत समझें, तो पहले बाबाजी से भी सलाह कर लें-बाकि आपकी मर्जी. आपको एवं आपके अन्य परिवारजनों को भी नव-वर्ष की मंगल कामनायें.

के द्वारा:

मधुरेश जी अच्छा कटाक्ष किया है टेस्ट तो अलग है ही साथ ही दोहरे चरित्र के चलते हम सब वही कर रहे है जो नहीं करना चाहिए? यानी पियाज की कीमत को लेकर है तोबा मचाना कहा की काबलियत है एक न्यूज़ पेपर ने अपने पाठको शब्द दिया प्यार की जगह प्याज लिख कर कोई पैरोडी बनाओ और लोगो ने बनाई इसका साफ़ मतलब है की लोग और टी बी कोई भी इस मुद्दे पर गंभीर नहीं क्यों की यदि कुछ दिन प्याज नहीं खाया जाता तो यह लगता है की प्यार नहीं मिला कोई फर्क नहीं पड़ता है की लोग क्या पसंद कर रहे है और अपनी नेक्स्ट जेनरेसन को क्या देना चाह रहे है बाह भाई बाह जो दिखता है बही विकता है. सच को भूल कर ख़याल में जीने की आदत बन गयी है. बदिया है बधाई एक बार पुनः.

के द्वारा:

मुधुरेश जी आपने बाबा जी का विस्तृत वर्णन कर यह्सबित किया है कि आप उनके प्रयोगों पर कितनी पैनी निगाह रखते है, और यह जिम्मेदारी जनता ने आप जैसे लोगो पर छोड़ दी है.और हमें फख्र है कि आप इसे पुरे मनोयोग और गंभीरता से निर्वहन क्र रहे है जिसके लिए मै और मेरे जैसे लोगो से लगाव रखने वाले भी आपकी शोधपरक लेखो के माध्यम से जानकारी हासिल करते रहेगे क्यों कि निकट भविष्य में बाबा रामदेव भी १० जनपथ के साम्राज्य के बराबर बैठने को आतुर है कौन जाने कब से आम जनता से मिलाना तो बहुत दूर की बात है, दर्शन देने से भी अपनी व्यस्तता के चलते मजबूर हो जाय या आवश्यकता ही न समझे. आद्रडीय मधुरेश जी बहुत सुंदर और समसामयिक लेख के लिए मेरी शुभकामना स्वीकार करे.

के द्वारा:

jo bhiyaji aapney kaha woh saty hai khabriya chhanel jitn tej utni uski t.r.p.tej kuch channel sarg ka rashta dikha rahey hain arey bhai kahan likha swar ka rasta yahan se jata swarka rashta to granthon meie likha karmo ke anusaar milta swarg aur narak itna hi insaan ko malum ho ki log roj paap karein aur kahney ki t.v.walo se puch kar swar ka rasta dundh lnegey aur wahan pahunctey hi bas paap mukt ho jayengey abhi kisi channel wale se kaho ganga meie dubki lagney ke baad swar milta hai tab kahtey hain yeh andh vishwas hai inki mahant kitni fast hai ek aadmi sadk per ghyal pada hai usey uta kar hospital nahi leyjaatey aur jab tak woh aadmi tap tadp kar behosh na ho jaye inka camera chalta hi rahta hai aur yah govt.ko kostey rahtey bas ek baat zaroor kahdeytey iss channel police aur govt.meie iss ghaya wale durdsha ko sab se pahley dikhyajahan koi nahin pahuchta wahan channel kaisepahuchta hai aajdate tak samjh paaya bomb fata saarey t.v.channel bas ussi aur ghumgaye per wahan ghaylo ki elp karney koi channel tyar nahi balki govt.per aarop lagdiya arey bhai govt/itni hi kabil hoti to durdarsh uska kabhi yeh kah pata ki yah news doordarshan ne govt.ko batya ki wahan aag lagi balki durdarshan to khud privte chanel se aisi khabar udhar maang leyta hai haan kabhi channel walon ki bajah se kisi ka ujda ghar bas jata hai per woh bhi jab kisi ki channel tak jankari ho lko meie ek road bridge ke upper se ja rahi aur uss bridge per kabhi kisi channel ki nazar nahi kabhi koi durghtna hogayi tab uss samay saarey chnnel doey chaley aayengey balki iss sadak per se lko.ke adhikat v.i.p.bhi gujrtey hain per aankey mund kar chltey vidhn se ke paas t.v.channel ki gaadi khadi hoti kuch kadam per gandi ka samrajy hai burlingto chaurahey per gandgi ka samrajy hai t.v.channel govt.ko nahi jaga raha haan issi gandgi se koi bimar ho jaye tab channel ka camera tab tak cahta rahega jab tak usko baddbu na lagey bhi t.v.channel ka apna dayara hai woh samay ke saath chalta hai kab kaun sa teer marna hai adhikater news to bihar ke neta hi aisi baat kahdeytey hain unko baar dikaney ka mauka milja ta haiek channel per crime petrol aata hai ek channel ne crime per adharit news hi dikhana chalu kar diya kya hora channelwalo ko serail hain to subah dupher baar baar dekho arey bhiya ek jagh na tikko desh ki kushali meie jo roda bann rahe hain unko parda phas karo rastey meie ghyal ko karhate uski durdasha honey per uski help karna bhi aap ka kartvy hai baaki aapki fataphat news to sab ka dil bahala hi deyti hain yah bhi aap kah saktey kuch saalon paheley news aisi kahan thi jaisi ab ....uskeliye dhanybaad ...bur matt mano t..v channel fast fast ho kar bhaggey baaki news pichhe mera to yahi kahna hai t.v.channel ek asia madhyam hai jiski burai karkey apna sudhra waqut nahi biggad na chhiye kyun ki bada teji channel ka nazariy haibahut se log issi baat se peresaan hain ki inkey kahtey jis market meie aalo 10 rs.thhey inke rate kohltey hi 15/rs.hogaye kai news ki headline itni tej hoti hai ki track se yamraj aaj ker aadmi ko ley bas...thodii..deyer meie waha inki teji ke jahan police chor dacit ko pakdney pahunchi ki news sunntey hi woh hoshiyaar bhai kahin to rahm karo apni teji ka (yeh na jaaney yah tej chhannel ki kahani hai)yeh woh channel hain jo fast line ki doddmeie hain t.r.p.ke liye sex murder in ke liye bahut hi badiya news hai kuch vastu chupa kar sab dikha rahey hai phir ussi news ko galat kahdey tey hain yah society ke naam per dhabba hai phir bhaiya issko bada chada kar kyun dikha rahe ho pahale kabhi delhi ki ram lila meie netao ko aagey karney ke liye ravan dahan nahi roka jata tha abki woh khabar baar dikhai ja rahi thi na jaaney netaji hi ravan ka dahan kareynegey bhai yah kaam to ravan ka hai ussi beach 5 baar advertisement ko dikhadiya kya hoga iss channel ka jo ek samay pahley bin kisi break ke aadmi sunn kar apna sara kam samay se karkey office jata tha jahan break wahan aadmi hua late

के द्वारा:

भारतीय पुलिस की एक सच्ची तस्वीर आपने प्रस्तुत की है लेकिन यहाँ मैं आपकी बात को एकतरफा प्रहार के रूप में देख रहा हूँ| सिक्के का दूसरा पहलू भी है इन्ही जाग्रत थानों से ही प्रशाशनिक अधिकारियों की मौज-मस्ती का खर्चा मंत्रियों की आवभगत का खर्चा आता है आप तो जागरण के सदस्य हैं आपसे अच्छा कौन जानता है कि पुलिस पर लगाईं गई ८०% कालिख तो खुद राजनेताओं और प्रशासन के हिस्से की है| क्षेत्र का केवल एक आदमी 'विधायक या जिलाधिकारी या कप्तान' अकेला यदि इमानदार हो तो ईमानदार और सभ्य आचरण सबसे पहले पुलिस ही करेगी| सांड को छुट्टा छोड़ दोगे वो भी डंडा और पिस्टल लेकर तो वो भजन तो गाएगा नहीं| हाँ पुलिस की चरित्र हीनता उसकी व्यक्तिगत है लेकिन वसूली पर नज़र न लगाइए महोदय नहीं तो प्रशासनिक और न्यायिक अधिकारियों के खर्चों पर प्रतिबन्ध लग जाएगा| पुलिस के वसूले हर एक रुपये में से ९० पैसा ऊपर जाता है सिर्फ १० पैसे के लिए बेचारे रात दिन जनता की सेवा करते हैं और जनता की सबसे ज्यादा गालियाँ भी खाते हैं|

के द्वारा: chaatak chaatak

वैसे जनाब अच्छी तरह से आप हमारे बिहार की तारीफ कर रहे हैं, शुक्रिया, खैर आप की नज़रों में इसकी यही बयानात अगर पुख्ता हैं तोह व्यंग में ही सही आपने अच्छी तरह से इसका उपयोग किया है. मैं आपकी इन सभी कथनों पर सहमत तोह नहीं हूँ क्यूंकि आप जैसे लोगों ने ही बिहार को बदनाम कर के रखा हुआ है अगर यह सच भी है तोह इसका आधार आपने सही नहीं रखा है, क्यूंकि सिर्फ बिहार में ही नहीं बल्कि पूरे हिंदुस्तान की यही समस्या है और आपने व्यंग्य में सिर्फ बिहार कह कर उसका अपमान किया है शयेद आप को मालूम नहीं है ककेवल मुंबई में आप चाहे तोह इस तरह की फर्जी डिग्री किसी भी फोटो स्टेट की दुकान से ओरिगिनल से भी ओरिगिनल मिल जाएगा ...... आप iss पर भी विचार करीye आप लाख व्यंग करें लेकिन किसी स्टेट पर ऐसा इलज़ाम ना लगें please

के द्वारा:

iss desh mei jahan dekho wahan duplicate वास्तु मिल जायेगीऔर आम आदमी को इससे कोई मतलब नहीं ऐसे ही झोला छाप डॉक्टर क्किसी सहर के बोर्डर पैर कहीं आप की हालत खराब हो जाये घबरी नहीं बस वाले पुच लीजये , किसी ठेले वाले से पुच्छ लीजिये तुरंत कहेगा यह सामन्य देखो, यह पसंद नहीं कुछ दूरी पैर और होंगे दुकान ऐसी ही होगी बस चेरा बदला होगा फिलाल आपका इलाज हो जायेगा ,सर्कार कहाँ तक धयान रखे सरकारी डॉक्टर हैं उनको साफ़ मालूम है वोह सर्कार के दामाद हैं किसी ने कुछ कहा बस हड़ताल, प्रीवाते हैं पहले घर का सारा रुपया ले आओ इलाज़ बढ़िया हो जायेगा, गरीब कहाँ जाये बस एक सहारा है झोला-चाप ,वोह उस मुसीबत में गरीबों का भगवन होता है ,बस उनकी पोह्ह के बारहा वज्ज जाते हैघर जतेय्जतेय उनको की भगवन मिल जाता है सस्ते में इज्लाज़ मरीज़ का विस्वः यह बात अलग है वोही बीमारी कुछ घंटो बाद फिर लगजाये बहार का मरीज़ था चला gay येह पूरे हिंदुस्तान में मिलजायेंगे कोई रोचक-टोक नहीं,बस यह mast इनका झोला माँ.चलो इनको नमस्कार karleinst

के द्वारा:

के द्वारा: Manoj Manoj

क्या होता है इस देश का जब मायावती, मुलायम सिंह, लालू] नितीश, ममता बनर्जी, और भी बहुत से नेता धर्म की आड़ लेकर अपनी राजनेतिक ज़मीन बनाते है, और जब लोगो की धार्मिक भावना को भड़का देते है तो दूर खड़े होकर मज़ा लेते है और हम, हिन्दू, मुस्लिम अपनी अपनी पारिवारिक परेसानिया भूल कर एक्स दूसरे पर हमला कर मार काट करते है तथा पुलिस और प्रशाशन हम लोगो की एक दूसरे पर की गयी हिंसक वारदातों पर क़ानूनी कार्यवाही करता है और यह नेता दूर से मज़ा लेता है कुछ नेता मुस्लिम बहुल या हिन्दू बहुल की ताक़त को जान कर उनके वोट बैंक के आधार पर उत्पीढत्मक कार्यवाही करते है जिससे दूसरा पक्ष सोचता है यहाँ पर मेरी बात नहीं सुनी जा रही है कुछ गलत करना होगा जिससे यह हमारी बात सुनसके, यही राजनीति होती है अगर ऐसा है तो मई इसका हिस्सा नहीं हु, क्यों बरेली मई हिन्दू मुस्लिम धार्मिक भावना भड़काई गयी| किसी पक्ष को यदि बंद कर दिया तो उसको कानून पर छोड़ दिया जाता यदि यह लखनऊ के नेता लोग अपनी भांजी नहीं मरते तो बरेली में यह हिंसक घटना नहीं घटित होती| यदि किसी मुक्त करना ही था तो अंदर ही अंदर राजनीति करते बात को बाहर नहीं आने देते और कानून को अपना काम करने देते पर नहीं कही मुस्लिम या हिन्दू वोट बैंक नहीं हट पाए पर इसमें हम हिन्दू और मुस्लिम और उन सभी लोगो की पूरी गलती है जो इलेक्शन के वक़्त अपना काम और धंधा भूलकर इन नेता लोगो की चापलूसी करते है और गलत लोगो की लखनऊ या दिल्ली भेजते है| यह नहीं होना चाहिये होना तो यह चाहिए की सही आदमी को चुने और उसका साथ दे पर क्या करे वोह सही आदमी भी नेता बनते ही सबसे पहेले अपना बैंक बैलेंस और बिल्डिंग और न्यू ब्रांड कार को खरीदना चाहेगा और ऐसी तैसी में जाये रोड, वाटर, रोटी, गरीबी, और तरकी पहले हमारी जेब भरे बाद में किसी और की| लिखना तो बहुत कुछ चाहता था पर समय नहीं होने पर फिर इसको आगे विस्तार से लिखूंगा-माफी चाहता हु की यदि किसी की धार्मिक भावना को चोट लगी हो जो दिल में थे लिखा -राहुल गुप्ता बुदौयं २४३६०१ up क्या होता है इस देश का जब नेता धर्म की आड़ लेकर अपनी राजनेतिक ज़मीन बनाते है, और जब लोगो की धार्मिक भावना को भड़का देते है तो दूर खड़े होकर मज़ा लेते है और हम, हिन्दू, मुस्लिम अपनी अपनी पारिवारिक परेसानिया भूल कर एक्स दूसरे पर हमला कर मार काट करते है तथा पुलिस और प्रशाशन हम लोगो की एक दूसरे पर की गयी हिंसक वारदातों पर क़ानूनी कार्यवाही करता है और यह नेता दूर से मज़ा लेता है कुछ नेता मुस्लिम बहुल या हिन्दू बहुल की ताक़त को जान कर उनके वोट बैंक के आधार पर उत्पीढत्मक कार्यवाही करते है जिससे दूसरा पक्ष सोचता है यहाँ पर मेरी बात नहीं सुनी जा रही है कुछ गलत करना होगा जिससे यह हमारी बात सुनसके, यही राजनीति होती है अगर ऐसा है तो मई इसका हिस्सा नहीं हु, क्यों बरेली मई हिन्दू मुस्लिम धार्मिक भावना भड़काई गयी| किसी पक्ष को यदि बंद कर दिया तो उसको कानून पर छोड़ दिया जाता यदि यह लखनऊ के नेता लोग अपनी भांजी नहीं मरते तो बरेली में यह हिंसक घटना नहीं घटित होती| यदि किसी मुक्त करना ही था तो अंदर ही अंदर राजनीति करते बात को बाहर नहीं आने देते और कानून को अपना काम करने देते पर नहीं कही मुस्लिम या हिन्दू वोट बैंक नहीं हट पाए पर इसमें हम हिन्दू और मुस्लिम और उन सभी लोगो की पूरी गलती है जो इलेक्शन के वक़्त अपना काम और धंधा भूलकर इन नेता लोगो की चापलूसी करते है और गलत लोगो की लखनऊ या दिल्ली भेजते है| यह नहीं होना चाहिये होना तो यह चाहिए की सही आदमी को चुने और उसका साथ दे पर क्या करे वोह सही आदमी भी नेता बनते ही सबसे पहेले अपना बैंक बैलेंस और बिल्डिंग और न्यू ब्रांड कार को खरीदना चाहेगा और ऐसी तैसी में जाये रोड, वाटर, रोटी, गरीबी, और तरकी पहले हमारी जेब भरे बाद में किसी और की| लिखना तो बहुत कुछ चाहता था पर समय नहीं होने पर फिर इसको आगे विस्तार से लिखूंगा- माफी चाहता हु की यदि किसी की धार्मिक भावना को चोट लगी हो जो दिल में थे लिखा - राहुल गुप्ता बुदौयं २४३६०१ up

के द्वारा: rahul243601 rahul243601

के द्वारा:

-मधुरेश भाई, मुद्दा बढि़या है, सवाल अति संवेदनशील लेकिन इलाज आखिर क्या हो। -विषय, कथ्य और तथ्य में कुछ और अध्याय जुड़ते तो जवाब भी मिलता और तब ज्यादा मजा आता। -गरीब, गरीबी और उसके शिकवे एक तरफ। हवाई जहाज, क्रूज, फाइव स्टार होटल आदि आज के नेताओं के फसाने दूसरी तरफ। -गरीबी की बात कर वोट पाते हैं और अमीरों का ख्याल रख पैसा बनाते हैं। -संभवत: यही तस्वीर बन गई है इंडिया, भारत और हिन्दुस्तान की। -नई सदी व ग्लोबलाइज्ड दौर के आज के हाईटेक व उदारमन (खर्च के मामले में)नेता, उनके शाही ठाठ-बाठ, शहंशाई शानो-शौकत, लाव-लश्कर और न जाने क्या-क्या..., आज ये ही इनकी छोटी-मोटी पहचान है, अगर यह छोटी-मोटी है तो फिर बड़ी पहचान कैसी होगी? आपके सवाल में अब सवाल फिर यह उठता है कि नेताओं के पास आखिर इतने पैसे कहां से और कैेसे। आपको भलीभांति वह वाकया याद होगा कि जब देश के सर्वोच्च नीति-नियंता के घर (संसद) के ही सदस्य जब सदन में आमजन व सामाजिक सरोकार से जुड़े सवालों के पूछने के बदले पैसे बटोरते हों तो फिर इनके क्या कहने। यह तो एक छोटी सी बानगी भर है। -आज यह किसी से छिपा नहीं है कि नेताओं की झोली अब करोड़ों से नहीं भरती इन्हें तो अरबों और खरबों चाहिए। क्या करें सुरसा की तरह मुंह ही इतना बड़ा है कि वो भी कम पड़े। -यह तो सर्वविदित है कि व्यापारिक और औद्योगिक घराने राजनीतिक दलों का पेट हरसंभव भरते रहते हैं आखिर उन्हें भी तो अपना साम्राज्य चलाना है, नीतियां अपने मनमाफिक बनवानी हैऔर व्यापार में सरकारी सहूलियतें जो हासिल करनी है। यानी उन्ही का पैसा बाद में दस गुणा उन्हें फिर मिलता है। अब इसमें कुछ इधर-उधर खिसक ही जाए तो क्या घट जाएगा और बेचारी जनता..वह तो बेचारी ही ठहरी। -उसूल, मूल्यवान और ईमानदार चरित्र वाले नेता तो अब ऊंगली पर गिनने से भी नहीं मिलते हैं। आपने जिन दौर के नेताओं की बात उठाई है वो आज के संदर्भ में अब कुछ अप्रासंगिक जैसी हो गई है। ईमानदार हैं तो बेचारे हाशिये पर ही जाएंगे। बेगूसराय के कामरेड नेता बासुदेव बाबू जिन्हें अब गार्ड भी धकियाते हैं तो इससे समझा जा सकता है कि नेताओं के प्रति जनमानस के मन में कैसी अमीरी वाली छवि बन गई है और इसके लिए जिम्मेदार कौन सी चीजें हैं। -खैर लिखने के लिए तो बहुत कुछ है लेकिन क्या करें और क्या-क्या लिखें देश के इन महानुभावों के बारे में। प्रतिक्रिया कुछ ज्यादा ही लंबी हो गई है लेकिन अपने अंतर्मन के वेग को यहीं रोक रहा हूं । -शेष भाग की प्रतीक्षा में, धन्यवाद।

के द्वारा:

मधुरेश जी। आपका चिंतन इंडियावाद से भड़ककर सांस्कृतिक वजूद खो रहे कोने में सिमटे भारत को पूरा का पूरा चित्रित करता है। मैंने इस ब्लाग के अलावा भी आपको लगातार पढ़ा है। भारतीय संस्कृति की सुगंध पर विदेशी अगरबत्तियों का धुआं आपमें घुटन पैदा करता है। आपने कई सवाल आने वाली पीढ़ी के लिए छोड़े हैं, जो जायज हैं। जहां तक गांधी के क्लोन की बात है, वह तो बड़ी संख्या में गांधी के साथ-साथ और उनके बाद भी इस देश में रहे हैं। छोटे-छोटे क्षेत्रों और उद्देश्यों के गांधी। लेकिन हासिए पर खड़े इन गांधियों पर हम मीडिया वालों की नजर भी कम ही पड़ती है। यदि सांस्कृतिक क्षरण से हम निराश हो रहे हैं तो यहीं से उम्मीदों के दीये भी जलते हैं। यह दीया जलाये रखिये। जो मुंडे और कुड़ियां अनर्गल मंच पर शिख से लेकर नख तक थिरका रही हैं, राष्ट्रीय गान पर भी उतने ही जोश से थिरकती हैं। उनके रगों में करंट दौड़ता है। इस करंट को रचना की ओर ले जाने की जरूरत है। यह मार्गदर्शन भी आपकी-हमारी जिम्मेदारी है।

के द्वारा:

मधुरेश, बधाई! बहुत अच्छा लगा- ' हे भारत तू कितना आगे बढ़ गया रे' शीर्षक से लिखा गया तुम्हारा लेख। बहुत कुछ कहना था मुझे भी- 'इंडिया दैट इज भारत' के संदर्भ में- आधी रात की आजादी तुम जानते हो, हम लोगों को फ्रीडम इंडिपेंडेंट एक्ट के प्रावधानों के तहत मिली थी। जाहिर है संरचना के स्तर पर औपनिवेशिक दासता बनी ही रह गयी। और यह दौर तो बाजार की संप्रभुता का है- मूल्य और संस्कृति सब यहां उपभोक्ता माल हैं। तुम्हारा व्यंग्य रुला देता है। जिस तरह तुमने इस आततायी और गुंडा दौर को चित्रित किया है, बहुत अच्छा लगा। उम्मीद है लिखना रोक नहीं दोगे और अगर ऐसा हुआ तो इसी ब्लाग पर तुम्हारी भ‌र्त्सना भी लिखूंगा। बहुत- बहुत बधाई। राघवेन्द्र ' भाऊ'

के द्वारा: dubeyraghvendra dubeyraghvendra




latest from jagran